नई दिल्ली, पीटीआई। पिछले साल ई-वीजा हासिल कर 25 लाख से अधिक पर्यटकों ने भारत की यात्रा की थी।यह संख्या 2015 के मुकाबले पांच गुना अधिक थी। वहीं वीजा की मुख्य श्रेणियों की संख्या 26 से घटाकर 21 कर दी गई है। गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने यह भी बताया कि वीजा की उप-श्रेणियों की संख्या 104 से घटाकर 65 कर दी गई है। इस तरह वीजा प्रक्रिया को सरल और तर्कसंगत बनाया गया है।

अधिकारी ने कहा कि गृह मंत्रालय के तहत आने वाले आव्रजन ब्यूरो द्वारा जारी ई-वीजा की संख्या 2015 में जहां 5.29 लाख थी जबकि पिछले साल यह संख्या बढ़कर 25.15 लाख हो गई। दूसरी तरफ भारतीय दूतावासों और उच्चायोगों द्वारा जारी नियमित या पेपर वीजा की संख्या इसी अवधि में 45 लाख से घटकर करीब 35 लाख हो गई। 

वीजा की कुछ श्रेणियों को मिलाने के बाद इसकी मुख्य श्रेणियों की संख्या 26 से घटकर 21 हो गई है। बता दें कि फिलहाल 166 देशों के नागरिकों को ई-वीजा की सुविधा उपलब्ध है। पर्यटन, व्यापार, स्वास्थ्य संबंधी दिक्कतों और कांफ्रेंस के लिए इन देशों में रहने वाले किसी भी व्यक्ति को आवेदन करने के 72 घंटे में ऑनलाइन वीजा मिल जाता है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Krishna Bihari Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस