पोरबंदर, प्रेट्र। गुजरात के कच्छ जिले के जखाऊ तट के करीब अंतरराष्ट्रीय समुद्री सीमा रेखा (आइएमबीएल) के उल्लंघन के आरोप में पाकिस्तान ने 23 भारतीय मछुआरों को गिरफ्तार कर लिया। पाकिस्तान ने उनकी चार नौकाएं भी जब्त कर ली हैं।

चार नौकाओं पर सवार 23 भारतीय मछुआरों को पाकिस्तान ने किया समुद्र से गिरफ्तार

पोरबंदर मछुआरा नौका संघ के अध्यक्ष जीवन जुंगी ने बताया कि चार में से दो नौकाएं कुछ दिनों पहले ही रवाना हुई थीं। अन्य दो नावें ओखा और वेरावल में पंजीकृत हैं। जुंगी ने बताया, 'हमें पता चला है कि चार नौकाओं पर सवार 23 भारतीय मछुआरों को पाकिस्तान ने अंतरराष्ट्रीय समुद्री सीमा रेखा के करीब बीच समुद्र से गिरफ्तार कर लिया है।

पाक समुद्री सुरक्षा एजेंसी ने अरब सागर से कीं यह गिरफ्तारियां

कच्छ जिले के जखाऊ तट के पास अरब सागर से शुक्रवार को ये गिरफ्तारियां पाकिस्तानी समुद्री सुरक्षा एजेंसी ने की हैं।' पाकिस्तानी समुद्री सुरक्षा एजेंसी अकसर ही अपनी सीमा में प्रवेश करने के आरोप में भारतीय मछुआरों को गिरफ्तार कर लेती हैं।

मोदी बोले, करना है तो बड़ा करो

लोकसभा चुनाव 2014 के परिणाम के बाद जब नरेंद्र मोदी गुजरात छोड रहे थे तो गुजरात क्रिकेट एसोसिएशन के तत्कालीन वरिष्ठ उपाध्यक्ष परिमल नथवाणी उनसे मिलने पहुंचे, मोटेरा स्टेडियम के रिनोवेशन की बात की तो मोदी ने पूछा, वर्ल्ड बेस्ट स्टेडियम कैसे बने, करना है तो बड़ा ही करो।

मोदी के ड्रीम सपने को पूरा किया शाह व नथवाणी ने

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री के साथ गुजरात क्रिकेट एसोसिएशन के भी अध्यक्ष चुने गए थे, गुजरात में एक आधुनिक व मेगा स्टेडियम का निर्माण उनका सपना था, मोदी के दिल्ली जाने के बाद उनके इस सपने को आगे बढाया जीसीए के नए अध्यक्ष अमित शाह एवं वरिष्ठ उपाध्यक्ष परिमल नथवाणी ने।

और दुनिया के सबसे बडे क्रिकेट स्टेडियम की रूपरेखा तैयार हो गई

लोकसभा चुनाव की जीत के बाद बधाई देने पहुंचे नथवाणी ने जब स्टेडियम की बात की तो मोदी का इतना ही कहना था करना है तो बड़ा करो, बेस्ट इन द वर्ल्ड। मोदी ने इसी वक्त पूछा दुनिया में हाल बडे स्टेडियम कौन-कौन से हैं और उनकी क्या खास बात है। जब उन्हें बताया कि ऑस्ट्रेलिया का मेलबोर्न, सिडनी, कोलकाता का ईडन गार्डन आदि बडे स्टे‍डियम में आते हैं। तब यह तय हुआ कि मेलबोर्न से बड़ा बनाना है। और बैठक क्षमता एक लाख 10 हजार रखेंगे। एक ही बैठक में दुनिया के सबसे बडे क्रिकेट स्टेडियम की रूपरेखा तैयार हो गई।

लार्सन एंड टूब्रो को सौंपा गया बनाने का काम

बनाने का काम सौंपा गया लार्सन एंड टूब्रो को जो नर्मदा बांध के पास पहले से दुनिया की सबसे ऊँची 182 मीटर की सरदार पटेल की प्रतिमा बनाने में जुटी थी। डिजाइन के लिए चुना गया पॉपुलस आर्किटेक्ट कंपनी को जिसने मेलबोर्न स्टेडियम को डिजाइन किया था।

Posted By: Bhupendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस