मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

मुंबई, एजेंसी। मुंबई और आसपास के इलाकों में रुक रुक कर हो रही अब जानलेवा साबित होने लगी है। पुणे और मुंबई समेत राज्‍य के अलग-अलग इलाकों में वर्षा जनित हादसों में कुल 30 लोगों की मौत हो गई है। एनडीआरएफ की टीमें घटनास्‍थलों पर पहुंच गई हैं और राहत और बचाव कार्य जारी है। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों में राज्‍य के कई हिस्‍सों में भारी बारिश की चेतावनी दी है। मौसम विभाग की चेतावनी के बाद मुंबई में आज सार्वजनिक अवकाश घोषित कर दिया गया है।  

मुंबई के मलाड़ इलाके में कुरार गांव में (Kurar Village) एक पहाड़ी ढलाव पर बनी झोपड़ियों पर भरभराकर एक दीवार गिर गई। इसमें दबकर 18 लोगों की मौत हो गई है जबकि 50 से ज्‍यादा लोग घायल हो गए हैं। घटना के वक्‍त दीवार के किनारे झोपड़ियों में परिवार सो रहे थे। दमकल विभाग और एनडीआरएफ की टीमें मौके पर पहुंच कर राहत और बचाव कार्य में जुटी हुई हैं। घायलों को जोगेश्वरी के सदर अस्पताल और कांदिवली के शताब्दी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

पुणे के अंबेगांव (Ambegaon) स्थित सिंघड़ कॉलेज (Sinhgad College) में बारिश के चलते दीवार गिर गई जिसमें दबकर छह लोगों की मौत हो गई। हादसे में कर्इ लोग घायल बताए जाते हैं। यह हादसा मंगलवार को तड़के एक बजकर 15 मिनट पर हुआ। एनडीआरएफ की टीम घटना स्‍थल पर पहुंच गई है और राहत और बचाव कार्य शुरू कर दिया गया है। इस हादसे में मृतकों की संख्‍या बढ़ने की आशंका जताई जा रही है। 

मुख्‍यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (CM Devendra Fadnavis) ने भी शताब्‍दी अस्‍पताल पहुंचकर घायलों का हाल जाना। इस दौरान उनके साथ मंत्री योगेश सागर (Yogesh Sagar) भी मौजूद थे। घायलों से मिलने के बाद मुख्‍यमंत्री ने कहा कि मैंने हादसे में घायल लोगों से मुलाकात की। वेस्‍टर्न लाइन पर लोकल ट्रेनों का आवागमन जारी है। सेंट्रल लाइन पर आवागमन प्रभावित हुआ है। वॉटर पंपों से पानी को निकालने का काम जारी है। 

मुंबई के कल्याण में भी एक दीवार गिर गई जिसमें तीन लोगों की मौत की जबकि एक व्‍यक्ति घायल बताया जाता है। इससे पहले पुणे में 29 जून को इमारत की दीवार गिरने से 15 लोगों की मौत हो गई थी। पुणे पुलिस ने दीवार गिरने की घटना के सिलसिले में कंस्ट्रक्शन बिल्डर्स, साइट इंजिनियर, कंस्ट्रक्शन सुपरवाइजर सहित आठ लोगों के खिलाफ  एफआईआर दर्ज की थी।

मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों में मुंबई और आसपास के इलाकों में कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश होने की चेतावनी जारी की है। मुंबई पुलिस ने लोगों को सलाह दी है कि वो अपने घरों से बाहर निकलने से पहले मौसम के बारे में अपडेट्स जरूर चेक कर लें। मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने हादसों में मरने वालों के प्रति शोक संवेदना जताई है। इसके साथ ही उन्‍होंने मृतकों के परिवारों को पांच लाख रुपये की आर्थिक मदद का एलान किया है। 

महाराष्ट्र सरकार ने कहा है कि मूसलाधार बारिश से रेल और सड़क यातायात प्रभावित होने की वजह से मुंबई में केवल आपात सेवाएं ही चालू रहेंगी। राज्य सरकार के प्रवक्‍ता बृजेश सिंह ने बताया कि भारी बारिश से सड़कों और रेल की पटरियों पर पानी भर गया है। हमने लोगों से अपील की है कि वे घरों से बाहर ना निकलें। मुंबई के कई हिस्सों में सोमवार सुबह से करीब 100 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है। 

वहीं नासिक के सतपुर इलाके में एक पानी की टंकी ध्‍वस्‍त हो गई जिसकी चपेट में आने से तीन लोगों की मौत हो गई जबकि एक अन्‍य घायल हो गया। मुख्‍यमंत्री ने हादसे की जांच और घटना के जिम्‍मेदार लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। नौसेना के एक अधिकारी ने बताया कि मुंबई के उपनगर कुर्ला में एनडीआरएफ, नेवी और दमकल विभाग की टीमों ने 1000 लोगों को सुरक्षित ठिकानों पर पहुंचाया है। 

Posted By: Krishna Bihari Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप