नई दिल्ली, एजेंसी। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) ने शनिवार को बताया कि कोरोना से अभी तक देश में कुल 196 डॉक्टरों की मौत हो चुकी है। इनमें से अधिकतर सामान्य चिकित्सक हैं। एसोसिएशन ने प्रधानमंत्री से इस मसले पर ध्यान देने का अनुरोध किया है। मालूम हो कि आइएमए देशभर के करीब 3.5 लाख डॉक्टरों का प्रतिनिधित्व करता है।

आइएमए ने डॉक्टरों की सुरक्षा पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा, 'ताजा आंकड़ों के मुताबिक हमारा देश 196 डॉक्टरों को खो चुका है, जिनमें से 170 डॉक्टर 50 वर्ष से अधिक उम्र के थे। इनमें करीब 40 फीसद सामान्य चिकित्सक थे।'एसोसिएशन का कहना है कि आबादी का बड़ा हिस्सा बुखार या उसे जुड़े लक्षणों पर सामान्य चिकित्सक से परामर्श लेता है, लिहाजा वे ही सबसे पहले संपर्क में आते हैं।

परिवारों की समुचित देखभाल करने का किया अनुरोध

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखे पत्र में आइएमए ने उनसे डॉक्टरों और उनके परिवारों की समुचित देखभाल सुनिश्चित करने का अनुरोध किया है। साथ ही सभी क्षेत्रों के डॉक्टरों के लिए सरकार प्रायोजित मेडिकल और जीवन बीमा सुविधा उपलब्ध कराने का आग्रह किया है।

एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. रंजन शर्मा ने कहा, ऐसी खबरें विचलित करने वाली हैं कि डॉक्टरों और उनके परिवार के सदस्यों को भर्ती होने के लिए बेड नहीं मिल पा रहे हैं और कई मामलों में दवाएं भी कम पड़ रही हैं।

दिल्ली में संक्रमण के दर में हुई मामूल बढ़ोत्तरी

पिछले एक दिन में दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के 1404 नए मामले आए। हालांकि संक्रमण दर में ज्यादा बदलाव नहीं हुआ है। स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक बीते 24 घंटे में 24,592 सैंपल की जांच हुई जिनमें से 5.70 फीसद सैंपल पॉजिटिव पाए गए। एक दिन पहले संक्रमण की दर पांच फीसद थी। इस तरह संक्रमण दर में मामूली बढ़ोतरी हुई है।  वहीं, इस दौरान 1130 मरीज ठीक हुए।

Posted By: Dhyanendra Singh

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस