नई दिल्ली, एएनआइ। देशभर में लगे लॉकडाउन के चलते देश के कोने-कोने में लोग फंसे हुए हैं। ऐसे में उन लोगों की मदद के लिए वंदे भारत मिशन और ऑपरेशन सेतु के तहत उनके घरों तक पहुंचाने की हरसंभव मदद की जा रही है। इस क्रम में आज कजाकिस्तान के नूर-सुल्तान से 132 भारतीय को भारत वापस लाया गया। 

सभी लोगों को एयर डंडिया की फ्लाइट्स AI1962 से आज सुबह लाया गया। बता दें कि इससे पहले देश के कोने-कोने से वंदे भारत मिशन के तहत काफी संख्या में लोगों की वतन वापसी हुई है। बता दें कि इस वक्त देश में लॉकडाउन का चौथा चरण चल रहा है। जिसके चलते सभी लोग अपने घरों में कैद हैं। इस लॉकडाउन में काफी छूट भी दी गई है, जिसके चलते काफी संख्या में लोगों की जिंदगी काफी पटरी पर आ गई है।

भारत में चीन की वुहान से फैले  कोरोना वायरस से अबतक 1 लाख से ज्यादा लोग  संक्रमित हो चुके हैं वहीं मरनवालों का आंकड़ा चार हजार के पार पहुंच गया है। इस वक्त इस वायरस का अभी तक कोई इलाज नहीं मिल पाया है। बता दें इस वक्त बेहद ही नाजुक स्थिति से गुजर रहा है। इस वक्त देश में इस लॉकडाउन के तहत काफी छूट भी प्रदान की गई है। इसके तहत 25 मई से घरेलू उड़ानें भी शुरू हो गई है। वहीं 1 जून से ट्रेनें भी शुरू हो जाएगी। इसे लिए बुकिंग भी शुरू हो चुकी है।

भारत में चीन की वुहान से फैले  कोरोना वायरस से अबतक 1 लाख से ज्यादा लोग  संक्रमित हो चुके हैं वहीं मरनवालों का आंकड़ा हजार के पार पहुंच गया है। इस वक्त इस वायरस का अभी तक कोई इलाज नहीं मिल पाया है।  सिवाय एहतियात बरतने के अलावा इस वायरस का अभी तक कोई इलाज नहीं मिल पाया है। ऐसे में इश वायरस से बचने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग पर जोर जिया जा रहा है। 

Posted By: Pooja Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस