संवाद सूत्र, फाजिल्का : देश की आजादी के 75 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में जहां विभिन्न जगहों पर संस्थाओं व राजनीतिक पार्टियों द्वारा तिरंगा यात्राएं निकाली जा रही हैं। वहीं रविवार को मुस्लिम समाज से जुड़े लोगों व बच्चों ने शहर में तिरंगा यात्रा निकालते हुए भाईचारे का संदेश दिया।

इस दौरान बच्चों ने देश भक्ति के नारे लगाए और देश के राष्ट्रीय झंडे का हमेशा सम्मान करने को संदेश दिया। यह तिरंगा यात्रा ओड़ांवाली बस्ती के निकट बनी जामा मस्जिद से शुरू हुई, जोकि हनुमान चौक, संजीव सिनेमा चौक, गौशाला रोड, घंटाघर, मेहरियां बाजार, गांधी नगर, तहसील कांप्लेक्स से होते हुए मस्जिद में आकर संपन्न हुई। इस दौरान भारी संख्या में मुस्लिम समाज से जुड़े लोगों व बच्चों ने हाथ में देश का तिरंगा लेते हुए मार्च निकाला। इस मौके मस्जिद के सदस्य निजाम खान ने कहा कि यह वर्ष देश की आजादी के लिए बहुत खास है, इसलिए वह भी इस जश्न में शामिल होकर इस खुशी को ओर बढ़ाने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि भारत हमेशा से ही भाईचारक सांझ का देश रहा है और यह सांझ हमेशा कायम रखी जाएगी। एनसीसी कैडेट्स ने बनाया तिरंगा संस, अबोहर : सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल निहालखेड़ा के एनसीसीस कैडेट्स द्वारा 75वें स्वतंत्रता दिवस के संबंध में 25 पंजाब बटालियन एनसीसी अबोहर के कमांडिग अफसर कर्नल शैलेंद्र सिंह के दिशा निर्देशानुसार एनसीसीसी अधिकारी लालचंद के मार्गदर्शन में गांव में तिरंगा रैली निकाली गई।

रैली में लोगों को हर घर में तिरंगा लहराने व इसकी महत्ता के बारे में बताया गया। तिरंगा यात्रा को सफल बनाने में शांति कुंज शक्तिपीठ निहालखेड़ा के संयोजक हीरालाल, मुक्तेश्वरी देवी व बिरमा देवी का भरपूर सहयोग मिला।

Edited By: Jagran