जागरण संवाददाता, भागलपुर : डीएवी पब्लिक स्कूल बरारी के परिसर में बुधवार को मानसिक स्वास्थ्य, तंबाकू निषेध, कैंसर निवारण आदि को लेकर जागरुकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में कक्षा दस के सभी छात्रा- छात्राओं ने भाग लिया। कार्यक्रम का आयोजन स्वास्थ्य विभाग के गैर संचारी रोग सेल भागलपुर की ओर से किया गया। गैर संचारी रोग पदाधिकारी सह विशेषज्ञ मनोचिकित्सक डा. पंकज मनस्वी, कैंसर रोग विशेषज्ञ डा. नेहा, मनोविज्ञानी निशांत आजाद, फिजियोथैरेपिस्ट डा. वरुण चंद्र और एफएलसी सह वित्त सह लाजिस्टिक सलाहकार चंदन कुमार ने अलग-अलग सत्र में पीपीटी के माध्यम से बच्चों को जानकारी दी। डा. पंकज मनस्वी ने कहा कि मानसिक स्वास्थ्य को पाठ्यक्रम में शामिल करना समय की जरूरत है। कोरोना के बाद बच्चों के मानसिक रोग से संबंधित समस्याओं में अप्रत्याशित वृद्धि हुई है। कैंसर रोग विशेषज्ञ डा. नेहा ने कहा कि कैंसर जैसी लाइलाज बीमारी के रोकथाम के लिए शीघ्र पहचान अत्यंत आवश्यक है। हमें कैंसर के प्रति लोगों को सजग करना होगा। निशांत आजाद ने कहा कि किशोर -किशोरियों में तंबाकू निषेध से गंभीर परिणाम से बचा जा सकता है। सभी बच्चों को नशा मुक्त की शपथ दिलाई गई। विद्यालय के प्राचार्य सह सहायक क्षेत्रीय अधिकारी रमेश चंद्र शर्मा ने कहा कि किशोर किशोरियों के विकास में नशा सबसे बड़़ा बाधक है। हमारी वर्तमान पीढ़ी नशे के गिरफ्त में आ रही है। इस विषय पर हमसबों को सजग होना होगा। उन्होंने विद्यालय को तंबाकू मुक्त शिक्षण संस्थान करने की घोषणा की। इस अवसर पर सुजित कुमार मंडल, अभिनव कुमार, मैथ्यू हेम्ब्रम आदि मौजूद थे।

Edited By: Jagran