महावीरी झंडा जुलूस को शांतिपूर्ण व सौहार्दपूर्ण माहौल में संपन्न कराने को बनी रणनीति

जासं, सिवान : महावीरी झंडा जुलूस को शांतिपूर्ण व सौहार्दपूर्ण माहौल में संपन्न कराने को लेकर जिला परिषद सभागार में डीडीसी दीपक सिंह की अध्यक्षता में पदाधिकारियों व पुलिस पदाधिकारियों की बैठक हुई। इस दौरान पदाधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया। इस दौरान डीडीसी ने बताया कि महावीरी झंडा जुलूस का त्योहार श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के दिन शुक्रवार को प्रारंभ हो रहा है। इस अवसर पर नगर क्षेत्र में शुक्रवार की रात्रि एवं रविवार को दिन में महावीरी झंडा का अखाड़ा जुलूस निकाला जाएगा।

बैठक के दौरान अनुमंडल पदाधिकारी रामबाबू बैठा को अखाड़ा जुलूस के समय महत्वपूर्ण एवं संवेदनशील स्थलों जैसे संपूर्ण थानाक्षेत्र तथा विशेषकर बड़ी मस्जिद, कचहरी रोड दुर्गा मंदिर, रजिस्ट्री कचहरी मोड़, लक्ष्मण रेखा, शांति वटवृक्ष एवं कागजी मुहल्ला चौक आदि सहित अतिसंवेदनशील स्थानों पर सीसी कैमरा लगाने का निर्देश दिया गया। बताया गया कि अखाड़ा जुलूस के दौरान डीजे, आर्केस्ट्रा डांस, अश्लील व राजनीतिक कटाक्ष संबंधी प्रदर्शन पर पूर्णतया रूप से प्रतिबंध रहेगा। बड़ी मस्जिद के सामने जिला प्रशासन कैंप बनाया जाएगा, जहां डीडीसी व जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी विपिन कुमार राय प्रतिनियुक्त रहेंगे। जुलूस के दिन शहर के बाटा मोड़ से शांति वटवृक्ष तक साइकिल, रिक्शा, बैलगाड़ी, जीप, आटो सहित चारपहिया वाहन के संचालन प्रतिबंधित रहेंगे। बड़ी मस्जिद से कागजी मोहल्ला की तरफ जाने वाली सड़क पर सिर्फ सरकारी गाड़ियों का संचालन होगा। नमाज के समय किसी अखाड़े को बड़ी मस्जिद के सामने से गुजरने नहीं दिया जाएगा। सदर अनुमंडल पदाधिकारी रामबाबू बैठा ने कहा कि जो भी जुलूस निकलेगा, वह लाइसेंस के साथ और निर्धारित रुट के अनुरुप ही होगा। सभी समिति के लोग अपना जुलूस निर्धारित समायानुसार ही निकालेंगे। जुलूस में अस्त्र और शस्त्र का प्रदर्शन नहीं होगा। शांति व्यवस्था में खलल उत्पन्न करने की कोशिश करने वाले शरारती तत्वों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। इंटरनेट मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट करने वालों के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी। कहा कि अति उत्साह में ऐसा कोई कार्य नहीं करना है, ताकि दूसरे की धार्मिक भावना आहत हो। दोनों समुदाय के लोगों से आपसी भाइचारे बनाए रखने की अपील की। जुलूस के दौरान विद्युत आपूर्ति बंद रहेगी, ताकि कोई अप्रिय घटना ना हो। बैठक में सभी वरीय पदाधिकारी व पुलिस पदाधिकारी उपस्थित थे।

Edited By: Jagran