सीएचसी बाजपुर में दवा मौजूद, स्टाक निल

संवाद सहयोगी बाजपुर : सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) के औचक निरीक्षण में मंडलायुक्त दीपक रावत को कई खामियां मिलीं। अस्पताल में उपलब्ध दवा का स्टाक निल दिखाए जाने पर उन्होंने जिलाधिकारी से जांच रिपोर्ट तलब की है।

गुरुवार को सीएससी के औचक निरीक्षण में मंडलायुक्त ने मरीजों से पर्चा राशि सहित स्वास्थ्य सुविधाओं की जानकारी ली। बाद में औषधि स्टाक रजिस्टर चेक किया तो उसमें कई दवाओं का स्टाक निल दिखाया गया था। जबकि वे उपलब्ध थीं। स्टाक का पोर्टल भी मैनेज नहीं किया गया था। मंडलायुक्त ने पत्रकारों को बताया कि स्टाक में उपलब्ध दवाओं की सूची प्रतिदिन सार्वजनिक करने के आदेश दे दिए हैं। इससे जनता स्वयं जान सकेगी कि अस्पताल में कौन सी दवाएं उपलब्ध हैं। उन्होंने अस्पताल में विटामिन, एंटासिड आदि की अनुपलब्धता पर असंतोष व्यक्त किया। साथ ही कहा कि इसकी जानकारी सचिव स्वास्थ्य को दे दी है। वहीं, स्टाक में दवा निल दिखाने के ममाले में उन्होंने जिलाधिकारी से जांच रिपोर्ट तलब की है। मंडलायुक्त ने स्पष्ट किया कि डेंटल यूनिट के लिए पैसा उपलब्ध है उसे सुचारू करवाया जाएगा । इस मौके पर एसडीएम आरसी तिवारी, तहसीलदार यूसुफ अली, सीएमएस डा. पंकज माथुर आदि मौजूद थे। इस दौरान आशा वर्कर यूनियन ने मंडलायुक्त को ज्ञापन देकर वर्ष 2021 से रुका मानदेय दिलवाने की मांग की। इस मौके पर रीता कश्यप, गीता सैनी, संतोश शर्मा आदि मौजूद थीं।

Edited By: Jagran