समस्तीपुर। भगवान श्रीकृष्ण के जन्मोत्सव के लिए बाजारों में रौनक बढ़ने लगी है। दुकानों में राधा-कृष्ण की मूर्तियां, नई तकनीकी के झूले, बिस्तर, भगवान के रंग -बिरंगे पोशाक देखकर ग्राहक आकर्षित हो रहे हैं। शहर के थानेश्वर स्थान महादेव मंदिर रोड, मारवाड़ी बाजार, स्टेशन रोड, रामबाबू चौक पर सड़क किनारे पूजन सामग्री के स्टाल लगाया गया है। खरीदारी के लिए ग्राहकों की भीड़ उमड़ रही है। बुधवार को शहर के थानेश्वर स्थान महादेव मंदिर के निकट लोग राधा-कृष्ण की मूर्ति व पोशाक खरीदते नजर आए। पोशाक व मूर्तियों के विक्रेता संजय कुमार ने बताया कि राधा कृष्ण की मूर्तियों के साथ पोशाक, बच्चों की कृष्ण जी वाली पोशाक, फैंसी झूला, मोर पंख, बांसुरी बिक्री के लिए मंगाया गया है। इस बार अच्छे कारोबार की उम्मीद है। लोगों में काफी उत्साह है। शुक्रवार को जिले में धूमधाम से जन्माष्टमी का त्योहार मनाया जाएगा। मंदिरों में विशेष साफ-सफाई का सिलसिला शुरू हो गया है। शहर से सटे जितवारपुर चांदनी चौक, हसनपुर और कन्हैया चौक व दुधपुरा रामजानकी ठाकुरबाड़ी में आकर्षक पंडाल का निर्माण कराया जा रहा है। इसके अलावा आरपीएफ बैरक, काशीपुर रामजानकी ठाकुरबाड़ी समेत ग्रामीण इलाकों में भी धूमधाम से तैयारी चल रही है। मंदिरों में साफ सफाई व रंग-रोगन किया जा रहा है। दुधपुरा में कृष्ण जन्मोत्सव पूजा समिति के कर्ण कुमार, पंकज कुमार, बब्लू कुमार, अनिल, अरविद, अमित, रवि ने बताया कि श्रीराध-कृष्ण की भव्य प्रतिमा और आकर्षक पंडाल का निर्माण कराया गया है। श्रीकृष्ण जन्मोत्सव के उपलक्ष्य में मटका तोड़ प्रतियोगिता का भी आयोजन होगा। जितवारपुर श्रीकृष्ण जन्मोत्सव समिति के महंत विष्णु राय ने बताया कि इस बार राधा-कृष्ण की प्रतिमा के साथ-साथ देवकी, नंद बाबा आदि की मूर्ति लगाई जा रही है। छह दिनों तक यहां कार्यक्रम होगा।

--------------

शुभ मुहूर्त में त्योहार : भाद्रपद कृष्ण अष्टमी के दिन 19 अगस्त को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का त्योहार मनाया जाएगा। पंडित रमाकांत ओझा ने बताया कि मिथिला पंचांग के अनुसार 18 अगस्त रात्रि 12. 21 बजे के बाद अष्टमी प्रारंभ होगी। वहीं 19 अगस्त की रात्रि 1.15 बजे तक अष्टमी रहेगा। इस वजह से श्रीकृष्ण जन्मोत्सव, व्रत व पूजा-अर्चना 19 अगस्त शुक्रवार को मनाई जाएगी।

----------------------

Edited By: Jagran