लखनऊ, जागरण संवाददाता। बसंत कुंज योजना में बचे हुए 275 भूखंडों को बेचने के लिए लखनऊ व‍िकास प्राध‍िकरण (लविप्रा) छह अक्टूबर से उनका पंजीयन शुरू करेगा। पंजीयन कराने की अंतिम तिथि पांच नवंबर होगी। लविप्रा ने अपनी जमीन अपना आसमान याेजना के तहत इन भूखंडों को बेचने के आदेश जारी कर दिये हैं।

एलडीए की बसंत कुंज याेजना

हरदोई रोड की बसंत कुंज याेजना में लविप्रा पहले भी भूखंडों को बेच चुका है। इस योजना में प्लानिंग विभाग ने 275 और नए प्लाट खोजे हैं। जिनको नई बढ़ी हुई दर पर बेचा जाएगा। यह सभी 275 भूखंड सेक्टर ए में होंगे। लविप्रा इन भूखंडों को 30350 रुपये प्रति वर्ग मीटर की दर से बेचेगा। इसमें 12 प्रतिशत फ्री होल्ड की दर भी शामिल है।

भुगतान आठ त्रैमासिक किस्तों में

  • ई श्रेणी के भूखंड : बसंत कुंज याेजना में ई श्रेणी के 175 भूखंड होंगे। भूखंड का आकार 72 वर्ग मीटर का होगा। भूखंड का अनुमानित मूल्य 21.85 लाख रुपये होगा। इसके लिए 10 प्रतिशत यानी 2.18 लाख रुपये पंजीकरण धनराशि जमा करना होगा। शेष 19.66 लाख रुपये की राशि का भुगतान आठ त्रैमासिक किस्तों में किया जा सकेगा।
  • डी श्रेणी के भूखंड : इसी तरह डी श्रेणी के 70 भूखंड होंगे। प्रत्येक भूखंड का आकार 112.50 वर्ग मीटर का होगा। इस भूखंड की अनुमानित कीमत 34.14 लाख रुपये होगी। पंजीयन के समय 3.41 लाख रुपये की राशि आनलाइन जमा करना होगा।
  • बी श्रेणी के भूखंड : इसी प्रकार बी श्रेणी के 30 भूखंड इस योजना में बेचे जाएंगे। इस भूखंड का आकार 200 वर्ग मीटर होगा। प्रत्येक भूखंड का अनुमानित मूल्य 60.70 लाख रुपये होगा। आवेदक इस श्रेणी के भूखंड के लिए 6.07 लाख रुपये पंजीकरण राशि जमा करेंगे। बसंत कुंज योजना के लिए आवेदन आनलाइन ही स्वीकार किये जाएंगे। लाटरी के माध्यम से आवंटी का चयन किया जाएगा।

Edited By: Anurag Gupta

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट