कुशीनगर, जागरण संवाददाता। Kushinagar Crime News: कुशीनगर जिले के नेशनल हाईवे (National Highway) पर आतंक का माहौल बनाकर रंगदारी वसूलने वाले गिरोह के पांच सदस्यों को गिरफ्तार करने में कसया पुलिस ने सफलता पाई है। सभी बदमाशों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उन्हें न्यायालय भेजा गया, जहां से सभी को जेल भेज दिया गया।

यह है पूरा मामला

प्रभारी निरीक्षक डॉ. आशुतोष कुमार तिवारी पुलिस टीम के साथ रात में चेकिंग के लिए निकले थे। इस दौरान फोरलेन के भैसहां गांव के सामने क्रासिंग के पास वाहन सवार कुछ युवक सड़क किनारे दिखे। पुलिस टीम के अनुसार टीम को नजदीक आता देख युवक भागने लगे। लेकिन पुलिस टीम ने उनका पीछा कर पांचों आरोपितों को घेरकर पकड़ लिया।

इन आरोपितों की हुई गिरफ्तारी

पुलिस टीम द्वारा दबोचे गए आरोपितों की पहचान रामकोला के टेकुआटार मस्जिदिया टोला के कैफ सिद्दीकी उर्फ राजू उर्फ समर शेख, कसया के परेवाटार के सलीम खान व नसीब आलम, देवरिया जिले के महुआडीह के भटनी बुजुर्ग निवासी अकरम उर्फ गोलू व कैफ के रूप में हुई है।

पुलिस की पूछताछ में स्वीकार किया अपराध

पुलिस द्वारा बदमाशों की तलाशी करने पर इनके पास से कई हजार रुपये बरामद किए गए हैं। पुलिस टीम द्वारा कड़ाई से पूछताछ करने पर बदमाशों ने स्वीकार किया है कि वे फोरलेन व अन्य व्यस्ततम मार्गों पर व्यापारियों अथवा अन्य राहगीरों को रोककर भय बनाकर उनसे रंगदारी वसूल करने का कार्य करते हैं।

क्या कहती है पुलिस

प्रभारी निरीक्षक डॉ. तिवारी ने बताया कि पकड़े गए सभी आरोपित शातिर बदमाश हैं। इनका मुख्य कार्य मार्ग पर राहजनी और रंगदारी वसूलना ही है। इनके नेटवर्क को खंगाला जा रहा है। यह भी पता किया जा रहा है कि अब तक कहां-कहां और कितनी रंगदारी इनके द्वारा वसूली गई है। पुलिस टीम में एसएसआइ हरेराम सिंह, उपनिरीक्षक दुर्गविजय नारायण राय, कां. राहुल आजाद, राजेश प्रेमी, शिवबिलास मिश्र, अरविंद गुप्ता शामिल रहे।

Edited By: Pragati Chand