जासं, कपूरथला। अमृतसर रोड पर गत मंगलवार को नाले में गिरे अभिलाष का शव स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर उसी नाले में उतराती मिला। इसी स्थान पर एनडीआरएफ और नगर निगम की टीम ने 72 घंटे का रेस्क्यू आपरेशन चलाया था। अभिलाष का कोई भी सुराग हाथ न लगने पर टीम लौट गई। निगम की टीम भी थक हार कर बैठ गई थी लेकिन इसे कुदरत की मर्जी ही कहा जाएगा कि छह दिन बाद नाले के पास से गुजर रहे पूर्व काउंसलर पवन धीर को अभिलाष का शव नाले के पानी पर उतराता दिखा। उन्होंने निगम व जिला प्रशासन को अवगत करवाया और शव को नाले से निकाला गया।

दो साल के अभिलाष का शव मिलने की पुष्टि करते हुए एसपी (डी) हरविंदर सिंह ने बताया कि शव को नाले से निकाल कर सिविल अस्पताल के मोर्चरी मे रखवा दिया गया है। स्वजनों के बयानों के आधार पर कार्रवाई की जा रही है।

उधर, अभिलाष के शव को सबसे पहले देखने वाले भाजपा नेता पवन धीर ने बताया कि वह किसी कार्य से उस रास्ते से निकल रहे थे। तभी नाले में एक बच्चे का शव उतराता दिखा। उन्होंने तुरंत इसकी सूचना जिला प्रशासन के अधिकारियों को दी। इस पर फौरन निगम एवं पुलिस टीम मौके पर पहुंची और बच्चे के शव को नाले से बाहर निकाला गया।

गत मंगलवार दोपहर लगभग 12:30 बजे अमृतसर रोड पर गंदे नाले में दो वर्षीय अभिलाष के गिरने की घटना हुई थी, जिसके बाद मौके पर पहुंची जिला प्रशासन की टीम ने तुरंत रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया था। मंगलवार रात तक कोई सुराग न मिलने पर जिला प्रशासन ने बठिडा से एनडीआरएफ की टीम को बुलाया गया।

एनडीएफआर की टीम तथा जिला प्रशासन की टीम ने लगातार रात दिन 72 घंटे नाले में रेस्क्यू ऑपरेशन कर अभिलाष की तलाश की लेकिन उसका कोई सुराग नहीं मिला। तीन दिन बाद एनडीआरएफ की टीम वापस लौट गई। इसके बाद अभिलाष जिला प्रशासन व निगम के लिए एक पहेली ही बना हुआ था और अभिलाष को तलाशने का कार्य ठप कर दिया गया था।

इस संबंध में एसपी (डी) हरविंदर सिंह ने बताया कि सोमवार सुबह एक प्रत्यक्षदर्शी द्वारा सूचना देने के बाद मौके पर पहुंची टीम ने गंदे नाले से अभिलाष के शव को निकाल कब्जे में लेकर सिविल अस्पताल के मोर्चरी में रखवा दिया है तथा परिजनों के बयान के आधार पर कार्रवाई की जा रही है। उन्होंने बताया कि बच्चा नाले में गिरने के बाद शायद कहीं साइड में फंसा रह गया। इसलिए रेस्क्यू टीम को नहीं मिल पाया। अब शव फूलने के बाद वह पानी के ऊपर आ गया। 

डिप्टी कमिश्नर ने अपनी पायलट जिप्सी से शव को अस्पताल पहुंचाया

कपूरथला। स्थानीय गुरु नानक स्टेडियम में स्वतंत्रता दिवस समारोह के बाद जब डिप्टी कमिश्नर श्री विशेष सारंगल भंडाल और सुजोवालिया में आम आदमी क्लीनिक का उद्घाटन करने जा रहे थे। तभी उन्होंने पिछले दिनों नाले में गिरे बच्चे के शव को देखा। उन्होंने तुरंत पायलट जिप्सी से शव को सिविल अस्पताल पहुंचाया और डाक्टरों को तत्काल आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिए। 

Edited By: Pankaj Dwivedi