कानपुर, जागरण संवाददाता। Kanpur Suicide शहर में अलग-अलग स्थानों पर हुई घटनाओं में केस्कोकर्मी समेत तीन लोगों ने आत्महत्या कर ली। घटनाएं शहर के नवाबगंज, बर्रा, और बजरिया थानाक्षेत्रों में हुई। अपनों की माैत की खबर मिलते ही स्वजन में कोहराम मच गया। उधर, पुलिस ने जांच पड़ताल कर शवों को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया है।

नवाबगंज के लखनपुर हाउसिंग सोसाइटी निवासी 58 वर्षीय रमेश सिंह सेंगर केस्को में लाइनमैन के पद पर कार्यरत थे। परिवार में पत्नी मंजू, बेटा ओम और तीन बेटियां हैं। स्वजन ने बताया कि रमेश नशे के लती थे जिसकी वजह से वह काफी बीमार चल रहे थे। इससे परेशान होकर शनिवार देर रात उन्होंने फंदे से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

वहीं, बर्रा विश्व बैंक निवासी 35 वर्षीय जितेंद्र कुमार उर्फ जीतू अवस्थी ने देर रात फंदा लगा लिया। बहन मोनिका ऊपर कमरे में देखने गयी तो भाई को लटकता देखकर शोर मचाया। इस पर मां सुरेश कुमारी और भतीजी ताशू ने किसी तरह जीतू को फंदे से नीचे उतारा और पड़ोसियों की मदद से पास के निजी अस्पताल ले गये।

जहां डाक्टरों ने जीतू को मृत घोषित कर दिया। कुछ साल पहले जीतू के बड़े भाई राजीव कुमार की कैंसर के चलते मौत हो गई थी। वहीं बजरिया के रामबाग निवासी 58 वर्षीय देवदत्त तिवारी ट्रक चालक थे। परिवार में पत्नी मंगला दो बेटियां और दो बेटे दुर्गेश व कुलदीप हैं। स्वजन ने बताया कि देवदत्त अवसाद में चल रही थी। जिससे परेशान होकर देर रात फंदा लगाकर जान दे दी।

Edited By: Abhishek Agnihotri