कानपुर, जागरण संवाददाता। Kanpur News मौरंग और बालू खनन सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में कराया जाता है लेकिन पहली बार अब भंडारण भी सीसीटीवी कैमरों की जद में होगा। इसके लिए सभी 11 मौरंग और बालू के भंडारण की निगरानी के लिए सीसीटीवी कैमरे लगाए जा रहे हैं। इसमें ज्यादातर भंडारण घाटमपुर में हैं जबकि एक-एक बिल्हौर और कटरी में है।

मौरंग और बालू के अवैध खनन को रोकने के लिए शासन के निर्देश पर खनन क्षेत्र में पीटीजेड (पैन टिल्ट जूम) कैमरा लगाए गए हैं। इनकी निगरानी सीधे अधिकारी करते हैं लेकिन अब भंडारण के लिए भी सीसी कैमरा जरूरी कर दिया गया है। ऐसा इसलिए किया गया है ताकि दी गई क्षमता के अनुसार ही भंडारण किया जाए। इससे अधिक भंडारण पर जुर्माना लगाया जाएगा।

यहां दी गई भंडारण की अनुमति -घाटमपुर के बीबीपुर, आनुपुर, रामपुर, चितौली, जल्ला के अलावा बिल्हौर के बाल्हीपुर और सदर कटरी ख्यौरा में मौरंग व बालू भंडारण की अनुमति दी गई है।

जिन्हें मौरंग व बालू भंडारण की अनुमति दी गई उन्हें सीसी कैमरा लगाने के भी निर्देश दिये गए हैं। अवैध तरीके से भंडारण और लोडिंग को रोकने के लिए यह व्यवस्था की गई है।- अतुल कुमार, एडीएम सिटी  

Edited By: Abhishek Agnihotri