कानपुर, जागरण संवाददाता। Kanpur Crime काकादेव से करीब छह माह पूर्व अपहृत किशोरी मंगलवार को जूही में अपने जीजा के घर पर मृत मिली। स्वजन ने इस मामले में करीब छह माह पूर्व बेटी के अपहरण और दुष्कर्म की धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया था।

जूही पुलिस ने बुधवार को मृतका के जीजा को गिरफ्तार कर लिया। वहीं, पुलिस अधिकारियों का कहना है कि गुरुवार को पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद नाबालिग के मौत की वजह स्पष्ट होगी।

काकादेव निवासी मृतका के स्वजन ने बताया कि उनकी बेटी की पांच साल पहले सामूहिक विवाह के माध्यम से रेलबाजार निवासी युवक से शादी हुई थी। युवक उसे मारता-पीटता था जिसके चलते बेटी ने उसे छोड़ दिया। बाद में बेटी ने पति के मुस्लिम दोस्त से शादी कर ली, जिससे एक साल का बेटा भी है।

आरोप है कि छह माह पूर्व बेटी अपने दूसरे पति के साथ आई थी। घर पर सिर्फ 14 वर्षीय छोटी बेटी थी। आरोप है कि बड़ी बेटी और पति ने दोनों उनकी 14 वर्षीय छोटी बेटी का अपहरण कर साथ लेकर दिल्ली चले गये। काफी खोजबीन के बाद भी पता न चलने पर उन्होंने अपने कथित दामाद के खिलाफ काकादेव थाने में अपहरण और दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराया था।

युवती के स्वजन ने बताया कि मंगलवार तड़के उनके बेटे के मोबाइल पर काल करते हुए दामाद ने बताया कि उनकी छोटी बेटी की मौत हो गयी है। उसने बताया कि वह जूही में रहता है। इस पर उन्होंने काकादेव पुलिस को सूचना दी और मौके पर पहुंचे।

मौके पर हंगामा और आरोपों को देखते हुए जूही पुलिस ने अपहरण व दुष्कर्म के आरोपित को गिरफ्तार करने के साथ ही उसकी पत्नी को हिरासत में लिया।

जूही थाना प्रभारी जितेंद्र सिंह ने बताया कि आरोपित युवक परिवार के साथ इसी महीने किराए पर कमरा लेकर रहने आया था। मुकदमा काकादेव थाने से संबंधित है फिर भी पोस्टमार्टम रिपोर्ट और स्वजन की तहरीर के आधार पर कार्रवाई की जायेगी।

फोरेंसिक टीम ने घटनास्थल पर की जांच पड़ताल : मौके पर पहुंची फोरेंसिक टीम ने जांच पड़ताल की। टीम ने बताया कि प्रथम दृष्टया किशोरी को गंभीर डायरिया होने की जानकारी सामने आई है। इसी से मौत होने की बात सामने आयी है।

हालांकि मौत की स्पष्ट वजह जानने और दुष्कर्म जैसे आरोपो की पुष्टि के लिये तीन डाक्टरों के पैनल और वीडियोग्राफी से गुरुवार को पोस्टमार्टम कराया जायेगा। 

Edited By: Abhishek Agnihotri