नाहन,जागरण संवाददाता। हिमाचल प्रदेश की जयराम सरकार जनता की आशाओं और आकांक्षाओं के अनुरूप खरा नहीं उतरी है। लोगों को भाजपा से बड़ी उम्मीदें थी और सरकार ने भी जनता को सैकड़ो सब्जबाग दिखाए गए थे। जो कि 5 वर्ष में पूरे नहीं हुए। यह आरोप पूर्व विधानसभा अध्यक्ष जीआर मुसाफिर ने सराहां में जारी प्रेस बयान में कहे। उन्होंने कहा कि 2017 के चुनाव और 2019 के उपचुनाव के दौरान लोगों को लग रहा था कि पच्छाद का जो विकास है, वह अलग होगा और विकास के मामले में पच्छाद सबसे आगे होगा। मगर 5 साल के बाद इस मौजूदा डबल इंजन की सरकार से पच्छाद की जनता अपने आप को ठगा सा महसूस कर रही है। बड़े-बड़े वायदे ओर बड़ी-बड़ी घोषणाएं हुई थी। वह सब जुमले में तब्दील हो गई है।

पच्छाद के लिए घोषित नेशनल हाईवे सराहां से चंडीगढ़ सड़क, पुलवाहल स्नोरा सोलन, राजगढ़ से नाहन नेशनल हाईवे बनाने की घोषणा हुई। मगर उसमें कोई सुधार नहीं हुआ, यह भी जुमला ही निकला। यहां उम्मीद थी कि सराज की तरह से पच्छाद का भी विकास होगा। क्‍वाग्धार हेलीपैड का निर्माण कार्य आज भी पैसे की वजह से लटका हुआ है। पच्छाद में सड़कों के हालात बहुत खराब है, सड़कें गड्ढों में तब्दील हो गई है। बेरोजगारी के कारण नौजवान आत्महत्या कर रहे हैं। लेकिन सरकार उन्हें रोजगार देने में सफल नहीं हो पाई है। महंगाई सातवें आसमान पर है, गैस सिलेंडर, तेल व आटा खाने की वस्तुओं में दूध, दही और पनीर जैसी चीजें है। उस पर टेक्स लगाकर इसे आम आदमी की पहुंच से बाहर कर दिया है।

जीआर मुसाफिर ने कहा कि भाजपा की सरकार बनने के बाद से प्रदेश में भ्रष्टाचार बढ़ गया है, भाई भतीजावाद हो रहा है। लाखों के हिसाब से प्रदेश व अन्य राज्यों में फर्जी डिग्रियां बांटी गई हैं। करोड़ों का घोटाला हुआ है, जिससे प्रदेश शर्मसार हुआ है। हिमाचल प्रदेश में चोरी, डकैती, लूटपाट के मामलों में वृद्धि हुई है। जिससे लगता है कि इस सरकार का कानून व्यवस्था पर कोई नियंत्रण नहीं है। प्रदेश की जनता बेहाल है, वह अब इंतजार में हैं कि कब इस सरकार को चलता किया जाए। भाजपा सरकार की विदाई तय है और आने वाले विधानसभा चुनाव मे कांग्रेस की सरकार बनेगी

Edited By: Richa Rana