लोहरदगा, जासं। PLFI Naxalite Arrested in Lohardaga उग्रवादियों के खिलाफ अभियान में लोहरदगा पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। पुलिस ने पीएलएफआई उग्रवादी संगठन के सदस्य बादल उरांव को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार पीएलएफआई उग्रवादी की पहचान सेन्हा थाना क्षेत्र के जोगना निवासी बादल उरांव को निशानदेही पर एक रिवाल्वर और नक्सलियों के कई पोशाक बरामद किए गए हैं।

लोहरदगा एसपी कार्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता में गिरफ्तार उग्रवादी और बरामद सामान को मीडिया के समक्ष प्रस्तुत करते हुए एसपी आर. रामकुमार ने बताया कि पुलिस इस उग्रवादी की गिरफ्तारी को लेकर विगत कई दिनों से लगातार काम कर रही थी।

एसपी ने बताया कि विगत चार अगस्त 2022 को बगडू थाना क्षेत्र अंतर्गत चल रहे विकास निर्माण कार्यों में पीएलएफआई उग्रवादियों के नाम पर लेवी मांगने की सूचना मिली थी। इस सूचना के आलोक में त्वरित कार्रवाई करते हुए बगडू थाना प्रभारी विश्वजीत कुमार सिंह के नेतृत्व में टीम गठित करते हुए इस कांड में शामिल सुनील मुंडा एवं बजरंग लोहरा को गिरफ्तार किया गया।

इनके निशानदेही पर पीएलएफआई का पर्चा एवं तीन देशी एक नाली बंदूक व अन्य सामान बरामद किया गया गया था। जिसके आधार पर बगडू थाना में विगत चार अगस्त 2022 को कांड संख्या 22/2022 अंकित किया गया था। कांड के अनुसंधान के क्रम गिरफ्तार उग्रवादियों द्वारा अपने अन्य सह अपराध कर्मियों द्वारा जानकारी दी गई और इनकी संलिप्ता बताई गई। इसी क्रम में 18 अगस्त 2022 को बगडू थाना क्षेत्र के बड़चोरगाई से सेन्हा थाना क्षेत्र के जोगना निवासी चरवा उरांव के पुत्र पीएलएफआई उग्रवादी बादल उरांव को गिरफ्तार किया गया।

गिरफ्तार अभियुक्त की निशानदेही पर बगडू थाना क्षेत्र के अगरडीह निवासी सुनील मुंडा के घर के सामने आम पेड़ के नीचे से गाड़ा हुआ एक देशी निर्मित सिक्सर रिवॉल्वर एवं 14 जोड़ा चीतकबरा वर्दी (उग्रवादी वर्दी) बरामद किया गया। पूरे घटनाक्रम में कुछ अन्य लोग भी शामिल हैं, जिनकी गिरफ्तारी को लेकर छापामारी व गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा है। मामले में अनुसंधान जारी है। छापेमारी टीम में बगडू थाना प्रभारी विश्वजीत कुमार सिंह, अनि अब्राहम अलमा मुर्मू, सअनि रंथु भगत, सैट थ्री और तकनीकी शाखा की टीम शामिल थी।

Edited By: Sanjay Kumar