कानपुर, जागरण संवाददाता। Janmashtami 2022 : रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) की ओर से श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के नाम पर बाकायदा रसीद छपवाकर वेंडरों से 2100 रुपये का चंदा लिया जा रहा है। यह आरोप वेंडरों ने लगाया है। शायद यही कारण है कि वसूली के बाद आरपीएफ मौन रहती है और अवैध वेंडर बेखौफ ट्रेनों व स्टेशनों पर सामान बेचते हैं।

जन्माष्टमी को लेकर आरपीएफ व राजकीय रेलवे पुलिस (जीआरपी) हर साल बड़ा आयोजन थानों व सेंट्रल पर करते हैं। रेलवे सुरक्षा बल पर कानपुर सेंट्रल व अन्य स्टेशनों में भगवान श्रीकृष्ण के नाम पर वेंडरों से 2,100 रुपये का जबरन चंदा इकट्ठा करने का आरोप लगा है। सेंट्रल स्टेशन में काम करने वाले वेंडरों से चंदा की बाकायदा पर्ची काटी जा रही है।

जन्माष्टमी शुक्रवार 19 अगस्त को धूमधाम से मनाई जानी है। कानपुर सेंट्रल स्टेशन में काम करने वाले वेंडरों से 2100 रुपये की रसीद पर श्रीकृष्ण जन्माष्टमी आरपीएफ बैरक झकरकटी कानपुर की मुहर लगी हुई है। वेंडरों का आरोप है कि आरपीएफ भगवान के नाम पर चंदा वसूल रहा है। कुछ लोग मर्जी से भी धनराशि देते हैं, लेकिन जबरन वसूली नहीं की जानी चाहिए। त्योहार को लेकर हर साल लोग खुद ही चंदा देकर धूमधाम से जन्माष्टमी मनाते हैं।

इस बाबत आरपीएफ इंस्पेक्टर बीपी सिंह का कहना है कि ऐसा कोई मामला संज्ञान में नहीं है। त्योहार को लेकर आरपीएफ जवान खुद ही धनराशि अपने पास से इकट्ठा करते हैं। कोई फर्जीवाड़ा करके वसूली कर रहा है तो उसके खिलाफ कार्रवाई करेंगे। मामले की जांच कर रहे हैं। जल्द सच सामने लाकर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Abhishek Agnihotri