श्रीनगर, जेएनएन। जम्मू-कश्मीर के शोपियां में बुधवार सुबह भारतीय सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच हुई मुठभेड़ में 4 आतंकी ढेर हो गए। हालांकि मारे गए आतंकवादियों की अभी पहचान नहीं हो पाई है। परंतु ये सभी अंसार गजवत-उल-हिंद (AGH) के बताए जाते हैं। सुरक्षाबों ने मुठभेड़ स्थल से भारी मात्रा में हथियार व गोलाबारूद बरामद किया गया है। इलाके में और आतंकवादियों की मौजूदगी की आशंका के चलते सुरक्षाबलों ने सर्च आपरेशन चलाया हुआ है।

उत्तर कश्मीर के जिला बारामुला के सोपोर के मलहूरा इलाके में यह मुठभेड़ आज बुधवार सुबह शुरू हुई। सुरक्षाबलों को सूचना मिली थी कि मलहूरा गांव में आतंकी मौजूद हैं। इस सूचना पर सेना की 55 राष्ट्रीय राइफल्स, सीआरपीएफ तथा एसओजी की टीम ने गांव की घेराबंदी कर सर्च ऑपरेशन चलाया। घेरा सख्त होता देख एक मकान में छिपे आतंकियों ने सुरक्षा बलों को निशाना बनाकर फायरिंग शुरू कर दी। पहले तो सुरक्षा बलों ने उन्हें समर्पण के लिए कहा। इसके बाद भी आतंकियों ने गोलीबारी जारी रखी तो सुरक्षा बलों ने भी जवाबी कार्रवाई की। शुरूआती मुठभेड़ में ही सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को मार गिराया था। सुबह 10 बजे तक सुरक्षाबलों ने मकान में छिपे चारों आतंकियो को ढेर कर दिया था। तलाशी लेने पर मुठभेड़ स्थल से भारी मात्रा में हथियार व गोलाबारूद भी बरामद हुए हैं। 

पिछले एक सप्ताह से सोपोर में आतंकवादियों की गतिविधियां काफी बढ़ी हैं। कश्मीर में पिछले दस दिनों के भीतर सुरक्षाबलों पर यह पांचवां हमला है। पिछले तीन की बात करें तो सुरक्षाबलों ने सोपोर से पांच आतंकवादियों को जिंदा पकड़ा है जबकि इससे पहले हुए आतंकवादियों द्वारा किए गए हमले में सीआरपीएफ के तीन जवान शहीद जबकि दो घायल हो गए थे। इलाके में और भी आतंकियों की मौजूदगी की आशंका के चलते सुरक्षाबलों ने अभी भी इलाके में सर्च आपरेशन जारी रखा हुआ है।

सेना की 55 आरआर और जैनापोरा पुलिस समेत संयुक्त सुरक्षा बलों की ओर से एक इलाके को घेर लेने और सर्च ऑपरेशन शुरू किए जाने के बाद मुठभेड़ शुरू हो गई। 

Edited By: Preeti jha