मनुपाल शर्मा, जालंधर। Jalandhar Ladhewali RoB: आगामी डेढ़ महीने के अंदर लद्देवाली रेलवे क्रासिंग के ऊपर ओवरब्रिज बनाने के लिए गार्डर रखने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। अति व्यस्त जालंधर छावनी-श्री माता वैष्णो देवी कटरा रेल खंड के ऊपर स्थित इस रेलवे क्रासिंग पर स्टील का बोस्ट्रिंग ब्रिज बनाया जाना है।

पिल्लर बनाए जाने की प्रक्रिया तीव्र गति से शुरू

इस बोस्ट्रिंग ब्रिज का निर्माण रेलवे की तरफ से अपने अधिकृत ठेकेदार कंपनी की तरफ से करवाया जा रहा है। रेलवे ट्रैक के आर-पार बोस्ट्रिंग ब्रिज रखने के लिए चार पिल्लर बनाए जाने की प्रक्रिया तीव्र गति से शुरू की गई है। इसमें अब खुदाई का काम निपट चुका है। मात्र स्टील एवं कंक्रीट भरने का काम ही बाकी बचा है। ट्रैक के दोनों तरफ दो-दो पिल्लर हैं, जिन्हें उपयुक्त ऊंचाई पर जाकर आपस में कनेक्ट कर दिया जाना है।

निर्माण साइट पर पहुंचने लगेगा मटेरियल

रेलवे की ठेकेदार कंपनी से प्राप्त जानकारी के मुताबिक संभवत सितंबर महीने के आखिर में रेलवे ट्रैक के आर पार गार्डर रखने का काम शुरू हो जाएगा। उससे पहले ही स्टील का मटेरियल निर्माण साइट पर पहुंचने लगेगा। बोस्ट्रिंग ब्रिज कारखाने में ही तैयार होगा और वहां पर एक बार जोड़कर चेक किया जाएगा। उसके बाद उसे दोबारा से हिस्सों में तब्दील कर निर्माण साइट पर लाया जाएगा और ट्रैक के ऊपर फिट कर दिया जाएगा।

रेलवे से प्राप्त जानकारी के अनुसार अगर कोई बड़ी दिक्कत नहीं आती है तो इस बात की पूर्ण आशा है कि दिसंबर महीने तक ट्रैक के ऊपर बोस्ट्रिंग ब्रिज को फिट कर दिया जाएगा। हालांकि ओवरब्रिज को चालू करने के लिए पीडब्ल्यूडी की तरफ से बनवाई जा रही अप्रोच रोड के काम का भी कंप्लीट होना अनिवार्य होगा।

यह भी पढ़ेंः-  Independence Day 2022: जालंधर में जन्मे बंता सिंह संघवाल ने गांव-गांव में बोए क्रांति के बीज, ट्रेन लूट कर 70 किलोमीटर तक भागे थे पैदल

Edited By: Deepika