प्रयागराज, जागरण संवाददाता। आभूषण कारोबारी से चार किलो चांदी लूटने वाले सिपाहियों के लिए मुखबिरी करने वाला दीपू हाथरस में भी नही मिला। प्रयागराज की शाहगंज पुलिस ने उसकी तलाश में हाथरस स्थित कई ठिकानों पर छापेमारी की लेकिन कुछ पता नही चला। दीपू पुलिस के हाथ नहीं आ रहा है, इसलिए अब उस पर इनाम घोषित करने की तैयारी शुरू कर दी गई है।

हाथरस के कारोबारी प्रयागराज के चौक से चांदी ले जाते हैं : सात अगस्त को शाहगंज पुलिस ने प्रतापगढ़ में तैनात सिपाही राहुल सिंह राकेश सिंह व धर्मधुरंधर गुप्ता को गिरफ्तार किया था। हाथरस के सादाबाद कोतवाली थाना क्षेत्र स्थित घड़ी अंता गांव निवासी विक्रम सिंह आभूषण का कारोबार करते हैं। वह प्रयागराज के चौक क्षेत्र में रहने वाले व्यापारी सुनील से चांदी की सिल्ली ले जाते और फिर जेवरात बनाकर बेचते हैं।

भतीजे संग चार किलो चांदी लेकर रात में जाते समय सिपाहियों ने लूट लिया था : सात अगस्त को वह अपने भतीजे हिमांशु के साथ यहां आए थे। रात करीब 10 बजे चार किलो चांदी लेकर वह रायल काशी लाज पहुंचे। वहां से सामान उठाकर स्टेशन के लिए जाने लगे। तभी कोतवाली थाना और लोकनाथ चौराहे के बीच में बुलेट पर सवार सिपाहियों ने खुद को क्राइम ब्रांच का बताते हुए कारोबारी और उसके भतीजे को रोक लिया। फिर सेल टैक्स को जानकारी देते हुए धमकाया और रुपये की मांग करते हुए खुशरोबाग की तरफ ले गए। पैसा न मिलने पर शाहगंज थाने के सामने लाए और चांदी लूटकर फरार हो गए।

बुलट सवार तीनों दबोचे गए थे : शाहगंज पुलिस और एसओजी की टीम ने घेरेबंदी करते हुए तीनों को दबोच लिया। अधिकारियों का कहना है कि फरार दीपू की तलाश में टीम लगी है। जल्द गिरफ्तारी न हुई तो इनाम घोषित किया जाएगा।

Edited By: Brijesh Srivastava