गोरखपुर, जागरण संवाददाता। गोरखपुर में अपने आप में यह पहला ऐसा अवसर था जब हजारों की संख्या में लोग एक जगह पर एकत्र हुए हों, हर हाथ में तिरंगा हो और हर तरफ राष्ट्रभक्ति के नारे लग रहे हों। यह दृश्य रामगढ़ताल क्षेत्र के नौकायन पर आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम का। यहां मानों पूरा शहर उमड़ आया हो। हाथ में तिरंगा लिए लोग जश्न मना रहे थे। भीड़ इतनी कि मानों धरती पर जन सैलाब उमड़ आया हो।

एक साथ हजारों लोगों ने गाया राष्ट्रगान

आजादी के 75 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में गोरखपुर विकास प्राधिकरण (जीडीए) ने रामगढ़ताल के किनारे भव्य कार्यक्रम आयोजित किया था। इस कार्यक्रम में अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों के अलावा आम लोगों को भी आमंत्रित किया गया था।

यहां दोपहर से ही हजारों की संख्या में लोग एकत्र हो गए। शाम होते-होते तो भीड़ इतनी हो गई कि सुरक्षा में लगे अधिकारियों के हाथ पांव फूल गए। शाम छह बजे एकसाथ मिलकर राष्ट्रगान व राष्ट्रीय गीत गाया गया। इस अवसर पर पूरे रामगढ़ताल क्षेत्र को भव्य तरीके से सजाया गया था।

दिनभर बजे राष्ट्रभक्ति गीत

सुबह से ही आर्नामेंटल लाइट के लिए लगाए गए पोल में लगातार देशभक्ति गीत बज रहे थे। इसके लिए 26 गीतों का चयन किया गया था। जीडीए ने इसके लिए विश्वविद्यालय, महाविद्यालय, मेडिकल एवं इंजीनियरिंग संस्थाओं के छात्र-छात्राओं को भी आमंत्रित किया था। जीडीए ने 50 हजार झंडे की व्यवस्था भी की थी। कार्यक्रम के लिए पूरे दिन तारामंडल क्षेत्र में रूट डायवर्ट किया गया था।

दिन भर चला समारोह

स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर गोरखपुर के सभी सरकारी, निजी कार्यालयों के साथ शहर से लेकर गांव तक हर घर पर तिरंगा फहराया गया और लोगों ने राष्ट्रगान गाया। पूरे जिले में उत्सव सा माहौल रहा। लोग देशभक्ति के रंग में सराबोर रहे।

एडीजी जोन अखिल कुमार, मंडलायुक्त रवि कुमार एनजी, जिलाधिकारी कृष्णा करुणेश, पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबंधक, दीन दयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर राजेश सिंह, मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय में कुलपति, गोरखपुर विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष प्रेम रंजन सिंह ने अपने-अपने कार्यालयों पर झंडारोहण किया।

Edited By: Pradeep Srivastava