लखनऊ, जेएनएन। (Independence Day 2022) देश की आजादी के 75 वर्ष पूरे होने तथा 76वें स्वतंत्रता दिवस पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) आज विधान भवन परिसर में राष्ट्रीय ध्वज फहराया। इस अवसर पर उनके साथ उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य (Keshav Prasad Maurya) तथा उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक (Brijesh Pathak) भी थे। उत्तर प्रदेश सरकार ने 76वां स्वतंत्रता दिवस धूमधाम से मनाने की तैयारी की थी। इसी क्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को नौ बजे लखनऊ के विधान भवन परिसर में राष्ट्रीय ध्वज फहराया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश की जनता के नाम संदेश भी दिया।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आजादी के उत्सव पर आप सबको बधाई। देश आजादी के 75 वर्षों का साक्षी बन रहा। इन 75 वर्षों में देश ने लंबी यात्रा तय की है। अब तो अमृत काल की नई कार्ययोजना के साथ आगे बढऩे का अवसर मिला है। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को शत शत नमन। देश की आजादी के लिए प्राण न्योछावर करने वाले वीर सपूतों को नमन। बलिदान देकर भारत को सुरक्षा की गारंटी देने वाले सेनानियों, सैनिकों को विनम्र श्रद्धांजलि।

पारदर्शी व जवाबदेह शासन दे रहे

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्वतंत्रता दिवस पर प्रदेशवासियों को संबोधित करते हुए कहा है कि हम प्रदेश को जहां पारदर्शी व जवाबदेह शासन दे रहे हैं, वही ईमानदार और संवेदनशील प्रशासन उपलब्ध कराने के लिए भी प्रतिबद्ध हैं। उन्होंने कहा कि पिछले पांच वर्षों में हमने प्रदेश में विकास और सुशासन की नींव तैयार की है। अगले पांच वर्षों में प्रदेश में प्रगति और समृद्धि की भव्य इमारत आकार लेगी। यह भव्य इमारत नए भारत का नया उत्तर प्रदेश होगा। योगी आदित्यनाथने पिछले पांच वर्षों के दौरान विभिन्न क्षेत्रों में अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाईं। इस अवसर पर उन्होंने स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों, वीर सैनिकों और पद्म पुरस्कार पाने वाली विभूतियों को सम्मानित भी किया।

अमृत महोत्सव में आमजन को जोड़कर इसको राष्ट्रीय उत्सव बनाया

मुख्यमंत्री ने कहा कि पीएम मोदी ने अमृत महोत्सव में आमजन को जोड़कर इसको राष्ट्रीय उत्सव बनाया है। हमने तो पूरे देश मे मौन मार्च के जरिए विभाजन की त्रासदी को भी स्मरण किया। यह सभी कार्यक्रम हमें अतीत की विरासत के साथ जोड़ते हैं। मै तो प्रदेश की विभूतियों का सम्मान और उनके दीर्घ जीवन की कामना करता हूं।

सीएम योग आदित्यनाथ ने कहा कि आज का मौसम भी गवाही दे रहा और प्रकृति भी अपना आशीर्वाद दे रही है। हमने सदी की सबसे बड़ी महामारी का सामना किया है। उस दौरान यूपी की जनता ने आत्म अनुशासन का परिचय दिया। हमारी टीम भाव से काम का परिणाम सबके सामने है। संकट काल में सर्वाधिक टेस्ट करने तथा टीका के साथ सबसे ज्यादा खाद्यान्न उपलब्ध कराने वाला राज्य उत्तर प्रदेश ही बना।

37 वर्ष बाद कोई सरकार रिपीट हुई

उन्होंने कहा कि प्रदेश में 37 वर्ष बाद कोई सरकार रिपीट हुई है। कोई मुख्यमंत्री लगातार पांच वर्ष काम करके फिर आज सेवा के लिए खड़ा है। यह भी पहली बार हुआ है। सेवा, सुरक्षा, तथा सुशासन हमारी प्राथमिकता है। हमने पांच वर्ष में प्रदेश में 2.61 करोड़ शौचालय, 43 लाख आवास देने के साथ ही साथ घरों तक बिजली पहुंचाई है। 15 करोड़ परिवारों को निशुल्क खाद्यान्न उपलब्ध कराया गया है। 1.70 करोड़ परिवारों को निशुल्क गैस कनेक्शन वितरित किए गये हैं। आज तो यूपी निवेश के ड्रीम डेस्टिनेशन के रूप में सामने आ रहा है। उन्होंने कहा कि यूपी की जीडीपी को दोगुना करने में सफलता मिली है।

अपनी पांच वर्ष की कार्ययोजना को तैयार किया

मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश ने अपनी पांच वर्ष की कार्ययोजना को तैयार किया है।

  • पांच वर्ष में यूपी की अर्थव्यवस्था वन ट्रिलियन डॉलर की होगी
  • यूपी की अर्थव्यवस्था को चार गुना करने पर काम कर रहे हैं
  • प्रदेश की अर्थव्यवस्था का आधार कृषि है
  • पांच वर्ष में अन्न दाता किसानों के लिए योजनाएं चली हैं
  • यूपी में अनंत संभावनाएं छुपी हैं

दशकों से लंबित योजनाओं को पूरा किया

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमने प्रदेश में दशकों से लंबित योजनाओं को पूरा किया है। किसानों के लिए 21 लाख हेक्टेयर भूमि के सिंचन की सुविधा उपलब्ध कराई है। अब तो प्राकृतिक खेती और तकनीक के साथ हम काम कर रहे हैं। गौवंश भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। हमने दस लाख निराश्रित गौवंश की व्यवस्था की है। हम तो नईं हरित क्रांन्ति हम लेकर आएंगे।

चार लाख करोड़ के निवेश लाने में सफल

मुख्यमंत्री ने कहा कि इन्वेस्टर्स समिट से हम प्रदेश में चार लाख करोड़ के निवेश लाने में सफल हुए हैं। इसके साथ ही ओडिओपी से भी एक्सपोर्ट 88 हजार करोड़ से बढ़कर 1.56 लाख करोड़ हुआ है। आज प्रदेश डाटा सेंटर के रूप में विकसित हो रहा है। 2023 की जनवरी या फरवरी में ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में हम दस लाख करोड़ के निवेश के लक्ष्य लेकर चल रहे हैं। प्रदेश में प्रत्येक परिवार के एक व्यक्ति को नौकरी पर काम कर रहे हैं। प्रदेश को अब एक्सप्रेस वे प्रदेश के रूप में जाना जा रहा है। इसके साथ हमारे पांच शहर मेट्रो से जुड़े हैं, छह पर काम चल रहा है। हम पांच नए एयरपोर्ट जल्द शुरू करने जा रहे हैं। उत्तर प्रदेश पांच अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे वाला राज्य होगा। इतना ही नहीं हमने 1.21 लाख गांवों तक बिजली पहुचाई है। अब जिलों में बिजली आपूर्ति पर भेदभाव नहीं होता है।

25 वर्ष के अमृत काल में नए भारत के निर्माण का भी अवसर

मुख्यमंत्री ने कहा कि देश आजादी के 75 वर्ष पूर्ण कर रहा है। इस ऐतिहासिक अवसर पर राष्ट्र 'आजादी का अमृत महोत्सव' मना रहा है। आज 'आजादी का अमृत महोत्सव' 75 वर्षों की विकास यात्रा के आत्मावलोकन के साथ-साथ आगामी 25 वर्ष के अमृत काल में नए भारत के निर्माण का भी अवसर है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 'सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास एवं सबका प्रयास' के मंत्र के अनुरूप प्रदेश सरकार अब प्रदेश के सर्वसमावेशी, सर्वस्पर्शी एवं समग्र विकास के लिए कार्य कर रही है। स्वतंत्रता दिवस के पावन अवसर पर मां भारती के उन सभी ज्ञात-अज्ञात सपूतों की पुनीत स्मृतियों को नमन, जिन्होंने स्वाधीनता की वेदी पर स्वयं को होम कर दिया। एक भारत-श्रेष्ठ भारत की संकल्पना की सिद्धि के लिए आप सभी का त्याग, बलिदान व समर्पण हम सभी के लिए मार्गदर्शिका है। उन्होंने कहा कि 76वें स्वतंत्रता दिवस की सभी प्रदेश वासियों को हृदय से बधाई एवं अनंत शुभकामनाएं। आज देश ने अपनी स्वतंत्रता के 75 वर्ष पूर्ण कर लिए। आइए, 'आजादी का अमृत महोत्सव' में इस पावन अवसर पर 'आत्मनिर्भर भारत' के प्रति एकजूट होकर अपनी प्रतिबद्धता को दोहराएं।

Edited By: Dharmendra Pandey