भरमौर, संवाद सहयोगी। Highmast Light Incident in Bharmaur, जिला चंबा के उपमंडल मुख्यालय भरमौर स्थित चौरासी मंदिर परिसर में मंगलवार दोपहर एक बड़ा हादसा हुआ। भरमौर प्रशासन की ओर से मंदिर परिसर में स्थापित की जा रही हाईमास्ट लाइट गिरने से एक किशोरी की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि बाप-बेटे सहित तीन अन्य मणिमहेश जा रहे श्रद्धालु घायल हो गए।

मृतका की पहचान 13 वर्षीय परीक्षा देवी पुत्री हेम सिंह निवासी कहलजुगसर, जिला डोडा, जम्मू-कश्मीर के तौर पर हुई है। 45 वर्षीय अंजील सिंह पुत्र स्व. ओम प्रकाश निवासी सरोड़ा तहसील भद्रवाह जम्मू-कश्मीर, पांच वर्षीय अदविक पुत्र अंजील सिंह निवासी सरोड़ा तहसील भद्रवाह जम्मू-कश्मीर तथा अनीता मन्हास पत्नी नरेश मन्हास निवासी सिरतंगल बस्ती, तहसील भद्रवाह, जम्मू-कश्मीर घायल हो गए। इन्हें हेलीकाप्टर के माध्यम से टांडा मेडिकल कालेज ले जाया गया है।

हादसे वाली जगह पर एकत्रित लोग।

ऐसे हुआ हादसा

चौरासी मंदिर परिसर में शिव मंदिर के समीप प्रशासन की ओर से हाईमास्ट लाइट स्थापित की जा रही थी। इसी बीच दोपहर करीब तीन बजे अचानक हाईमास्ट लाइट का खंभा असंतुलित होकर शिव मंदिर के चबूतरे पर जा गिरा। इसी बीच एक किशोरी व बच्चे सहित चार मणिमहेश यात्री इसकी चपेट में आ गए। खंभे की चपेट में आते ही परीक्षा जमीन पर गिर पड़ी, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई, जबकि तीनों घायलों को प्राथमिक उपचार के लिए भरमौर अस्पताल पहुंचाया गया, जहां से उन्हें टांडा मेडिकल कालेज, कांगड़ा रेफर कर दिया गया। इसके बाद सभी घायलों को हेलीकाप्टर के माध्यम से मेडिकल कालेज टांडा ले जाया गया है।

घटना के बाद माहौल तनावपूर्ण

इस घटना के बाद भरमौर में माहौल तनावपूर्ण हो गया तथा व्यापारियों सहित यात्रियों ने प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। शाम तक उक्त घटना पर न तो प्रशासन व न ही स्थानीय विधायक की ओर से कोई बयान जारी किया गया।

Edited By: Virender Kumar