प्रेम-प्रसंग में कुल्हाड़ी से काटकर की थी सफाई कर्मी की हत्या

जागरण संवाददाता, बांदा : प्रेम प्रसंग के चलते तीन माह से लापता नगर पालिका के संविदा सफाई कर्मी की कुल्हाड़ी से बोटी-बोटी काटकर हत्या की गई थी। हत्यारों ने वारदात को अंजाम देने के बाद शरीर के अवशेष व कपड़ों को जंगल में नदी के पास जमीन में गाड़ दिया था। पुलिस ने दो आरोपितों को हिरासत में लेते हुए जमीन खोदवाकर हड्डियां बरामद कीं। स्वजन ने कपड़ों से उसकी पहचान की है। आक्रोशित स्वजन ने शनिवार को डीएम कार्यालय जाकर पुलिस पर लापरवाही करने व हत्यारोपितों के धमकाने का आरोप लगाया। हत्यारों को फांसी की सजा दिलाने की मांग उठाई है। <ङ्कक्चष्टक्त्ररुस्न>त्रिवेणी गांव निवासी गंगादीन का 22 वर्षीय पुत्र धीरू शहर के नगर पालिका में संविदा सफाई कर्मी था। पिता के मुताबिक वह 13 मई को वार्ड नंबर 15 मर्दननाका ड्यूटी करने गया था। वहां से छुट्टी के बाद शाम पांच बजे वह घर जाने की जगह लापता हो गया था। पिता ने उसकी गुमशुदगी दर्ज कराई थी। स्वजन ने अनहोनी की आशंका जाहिर करते हुए उसका मर्दननाका मोहल्ले की एक विवाहिता से प्रेम-प्रसंग होने की पुलिस को जानकारी दी थी। जिसमें पुलिस लापता सफाई कर्मी की तलाश कर रही थी। सीओ सिटी राकेश कुमार सिंह, कोतवाली निरीक्षक राजेंद्र सिंह राजावत, मर्दननाका चौकी इंचार्ज अनिल सिंह ने विवाहिता के पति व भाई को पकड़कर कड़ाई से पूछताछ की तो वह टूट गए। पति व भाई की निशानदेही पर पुलिस ने पड़ुई गांव के नजदीक गंगापुरवा के गांव बाहर जंगल में केन नदी के नाले किनारे जमीन में दफन व नाले से दिवंगत सफाई कर्मी धीरू के शरीर की कुछ हड्डियां व कपड़े बरामद किए हैं। दिवंगत के पिता व मां राजाबाई समेत अन्य स्वजन ने कपड़ों से उसकी पहचान की। उनका आरोप है कि प्रेमिका ने फोन कर उसे बुलाया था। इसके बाद उसके पति, दो भाइयों व पिता ने उसकी कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी है। पीड़ित परिवार ने कलेक्ट्रेट जाकर मर्दननाका चौकी इंचार्ज अनिल सिंह पर तीन माह तक सही से खोजबीन न देने व टालमटोल करने का आरोप लगाते हुए आक्रोश जताया। डीएम व एसपी अभिनंदन से आरोपित पुलिस कर्मियों व हत्यारोपितों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है। सीओ सिटी ने बताया कि हिरासत में लिए लोगों से पूछताछ हो रही है।

Edited By: Jagran