जागरण संवाददाता, यमुनानगर :

मेयर मदन चौहान ने मंगलवार को सीएसआइ हरजीत सिंह व एसआई अमित कंबोज के साथ दड़वा डेयरी कांप्लेक्स का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण में कुछ डेयरी संचालक पानी से गोबर को नाली में बहाते हुए मिले। जिस पर मेयर मदन चौहान ने उनके खिलाफ उचित कार्रवाई करने के अधिकारियों को निर्देश दिए। वहीं, उन्होंने डेयरी संचालकों को कड़ी चेतावनी दी कि अब यदि कोई भी डेयरी वाला नाली में गोबर बहाता हुआ मिला तो उसकी डेयरी को सील कर दिया जाएगा। उन्होंने सभी डेयरी संचालकों को अपनी डेयरियों में थ्री पौंड सिस्टम बनवाने के निर्देश दिए।

बता दें कि नालियों में गोबर बहाने से दड़वा डेयरी कॉम्पलेक्स में पानी की निकासी की समस्या उत्पन्न हो गई थी। जिसके बाद मेयर मदन चौहान के निर्देशों पर निगम कर्मचारियों ने जेसीबी की मदद से गंदे पानी की निकासी कराई गई थी। दोबारा यह समस्या न हो, इसके लिए मेयर मदन चौहान ने डेयरी संचालकों को गोबर नालियों में न बहाने के निर्देश दिए थे। लेकिन फिर भी कुछ डेयरी संचालक गोबर को नालियों में बहा रहे हैं। जिससे नालियां व नाले ब्लाक हो रहे है। मंगलवार दोपहर बाद मेयर मदन चौहान अचानक दड़वा डेयरी कांप्लेक्स पहुंचे। इस दौरान वे कई डेयरियों के अंदर गए। कुछ डेयरियों में डेयरी वाले गोबर को पानी के पाइप से नालियों में बहाते हुए मिले। मेयर ने इन डेयरी संचालकों के खिलाफ उचित कार्रवाई करने के लिए सीएसआइ हरजीत सिंह व एसआई अमित कांबोज को निर्देश दिए। निगम अधिकारियों ने नालियों में गोबर बहा रहे डेयरी संचालकों के नाम नोट किए। वहीं, मेयर चौहान ने कहा कि अब जो भी डेयरी संचालक नालियों में गोबर बहाता हुआ मिला, उसकी डेयरी को सील किया जाएगा। इसके लिए निगम की एक निगरानी टीम बनाई गई। जो डेयरी कांप्लेक्स में गोबर बहाने वालों पर नजर रखेगी। जो डेयरी संचालक गोबर बहाता मिला, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Jagran