जागरण संवाददाता, हरिद्वार: Haridwar News : गुरुग्राम की एक युवती ने रानीपुर की शिवलोक कालोनी में पिस्टल की नोक पर दुष्कर्म का आरोप लगाया है। घटना 2019 की बताई गई है। गुरुग्राम से जीरो एफआइआर आने पर रानीपुर कोतवाली में आरोपित युवक, उसके फूफा और मां के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

पीड़िता ने एफआइआर में बताया कि वर्ष 2019 में शिवलोक कालोनी में रहने के दौरान वह नाबालिग थी। आरोप है कि कपिल सिंह निवासी गांव श्यामपुर कांगड़ी उसे अक्सर स्कूल आते-जाते परेशान करता था। उसने युवक के परिवार को इस बारे में बताया तो उन्होंने भी आरोपित का साथ दिया।

आरोप है कि वर्ष 2019 में उसे घर पर अकेला पाकर पिस्टल की नोक पर दुष्कर्म किया और अश्लील वीडियो बना ली। वीडियो प्रसारित कर देने की धमकी देकर उसके साथ दुष्कर्म करता रहा। आरोप है कि उसने अपने फूफा मनोज चौहान से भी मुलाकात कराई, जिसके बाद फूफा ने भी उसके साथ जबरदस्ती करनी चाही।

इसी साल वह गुरुग्राम में अपनी बहन के घर चली आई, लेकिन मई में गुरुग्राम पहुंचे कपिल ने उसे जबरन एक होटल में ले जाकर दुष्कर्म किया। फिर जुलाई में उसे आर्य समाज मंदिर, दुकान नंबर पांच के ब्लाक मार्केट कवि नगर गाजियाबाद ले गया, जहां उसका फूफा मौजूद था। आरोप है कि उससे कुछ कागजात पर साइन करवाकर शादी होने की बात कही। आरोप है कि तब भी फूफा ने उसके साथ जबरदस्ती करनी चाही।

अगस्त में फिर से गुरुग्राम पहुंचे कपिल ने उसे एक होटल में ले जाकर दुष्कर्म किया और नौ नवंबर को कपिल सिंह की मां सुनीता ने मोबाइल फोन पर संपर्क कर उसे कौशाम्बी मेट्रो स्टेशन दिल्ली बुलाया, जहां पहुंचने पर जबरन कार में बैठाकर हरिद्वार ले जाने लगे।

वह जैसे-तैसे बच निकली। गुरुग्राम पुलिस ने प्रारंभिक घटनास्थल हरिद्वार का होने के चलते केस यहां ट्रांसफर कर दिया। रानीपुर कोतवाली प्रभारी रमेश तनवार ने बताया कि मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।

Edited By: Nirmala Bohra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट