जागरण संवाददाता, फरीदाबाद : ग्रेटर फरीदाबाद में जमीन का मुआवजा लेकर कब्जा नहीं देने वालों पर कार्रवाई की तैयारी है। एचएसवीपी की ओर से ऐसी सारी जमीन की सूची तैयार कर ली गई है, जहां-जहां आज भी लोगों ने विभिन्न प्रकार से कब्जा किया हुआ है। जबकि किसानों ने न केवल असल मुआवजा प्राप्त कर लिया है बल्कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा बढ़ाया गया मुआवजा भी ले लिया है। उसके बावजूद कहीं किसान अधिगृहीत जमीन पर खेती कर रहे हैं तो कहीं अवैध निर्माण किए हुए हैं। अब ऐसी सारी जमीन कब्जे से छुड़ाई जाएगी। मूलभूत सुविधाएं हुई हैं प्रभावित

एचएसवीपी ने ग्रेटर फरीदाबाद में करीब 900 एकड़ जमीन मास्टर रोड के लिए अधिगृहीत की थी। इसके अलावा कुछ सेक्टर भी काटे हैं। किसानों द्वारा अधिगृहीत जमीन पर कब्जा नहीं दिए जाने की वजह से कई जगह मास्टर रोड पूरी नहीं बन सकी है। सीवर लाइन भी अधूरी पड़ी है। इसके अलावा एचएसवीपी के सेक्टरों में प्लाटिग भी सफल नहीं हो पाई। जहां प्लाट काटे गए हैं, वहां आज भी किसान खेती कर रहे हैं। तारफेंसिग कर जमीन पर कब्जा किया हुआ है। यहां प्लाट लेने वाले लोग इस वजह से अपने मकान नहीं बना सके हैं। वे एचएसवीपी के खिलाफ अदालत जा चुके हैं। सेक्टर-76,77, 78 और सेक्टर-75-80 में अधिक दिक्कत है। यहां भारी पुलिसबल के साथ सर्वे शाखा की टीम जाएगी और अपनी जमीन पर कब्जा लेगी। फिलहाल एचएसवीपी की टीम मास्टर रोड किनारे अतिक्रमण का सफाया कर रही है। संपदा अधिकारी अमित कुमार ने बताया कि जिन्होंने मुआवजा उठा लिया है, वह अपने आप जमीन से कब्जा साफ कर लें, वरना उनकी टीम तोड़फोड़ करेगी।

Edited By: Jagran