फर्रुखाबाद, जागरण संवाददाता। जनपद रायबरेली की एक युवती राजेपुर थाना क्षेत्र में बदहवासी की हालत में मिली। युवती ने बताया कि 17 अगस्त को घर से सहारनपुर स्थित अपनी ससुराल जा रही थी। फर्रुखाबाद बस स्टैंड पर बस का इंतजार कर रही थी, तभी चार युवक कार से आए और उसे छोड़ने की बात कही। युवती कार में बैठ गई। 

कार सवार युवक उसे लेकर जनपद हरदोई के थाना हरपाल क्षेत्र के गांव मुर्चा ले गए और वहां कमरे में बंद कर दिया। उसके साथ चारों युवकों ने दुष्कर्म किया। युवती को दो-तीन माह का गर्भ भी है। युवती शुक्रवार दोपहर को किसी तरह वहां से छूट कर घर पहुंची ग्रामीणों को आपबीती बताई। सामूहिक दुष्कर्म की सूचना मिलते ही थानाध्यक्ष दिनेश गौतम पहुंचे और क्षेत्राधिकारी अमृतपुर रवींद्र राय पहुंचे। 

युवती से पूछताछ भी की। कुछ देर में पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार मीणा भी पहुंचे और युवती से घटना के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने थानाध्यक्ष हरिपालपुर को भी बुलाया है। पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार मीणा ने बताया कि हरदोई गांव के मुर्चा गांव में युवती को बंधक बनाने की सूचना मिली थी। मामला सामने आया है कि युवती अपने बुआ फूफा व चाचा चाची के माध्यम से यहां आई थी। पीड़िता का मुकदमा दर्ज कर मेडिकल परीक्षण कराया जाएगा। दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

Edited By: Abhishek Verma