बिजली की चरमराई व्यवस्था को दुरुस्त कराएं

बिजनौर, जागरण टीम। भारतीय किसान यूनियन की तहसील परिसर में हुई पंचायत में बकाया गन्ना मूल्य भुगतान कराने, बिजली आपूर्ति की व्यवस्था दुरुस्त कराने, किसानों के नलकूपों से विद्युत मीटर हटवाने सहित कई अन्य मुद्दों के समाधान की मांग एसडीएम से की गई। किसानों ने दो टूक कहा कि यदि मांगों की अनदेखी की गई तो आंदोलन किया जाएगा। बुधवार को भाकियू कार्यकर्ताओं की तहसील अध्यक्ष दिनेश की अध्यक्षता में हुई पंचायत मदन सिंह चौहान ने कहा कि किसान आर्थिक तंगी झेल रहा है। न तो बकाया गन्ना मूल्य भुगतान दिया जा रहा है और न ही फसलों के वाजिब दाम दिए जा रहे हैं। सरकार किसानों की अनदेखी कर रही है। विद्युत बिल के नाम पर किसानों का शोषण किया जा रहा है। किसानों ने एसडीएम विजय वर्धन तोमर को ज्ञापन सौंपा। इसमें बड़िया क्षेत्र में कारसेवा द्वारा बनाए गए पुल को नदी की तेज धारा से बचाने, फसलों को बर्बाद कर रहे निराश्रित पशुओं से फसलों की सुरक्षा किए जाने, आगामी पेराई सत्र में गन्ने का दाम 450 रुपये प्रति कुंतल दिए जाने, एमएसपी पर गारंटी कानून बनाए जाने सहित कई मांगों को उठाया। सौरभ चौहान के संचालन में हुई पंचायत में देवदत्त शर्मा, विरेंद्र सिंह, अरजेंद्र सिंह, नरदेव सिंह, विरेश राणा, हुकम सिंह, अजय कुमार, सत्यपाल सिंह, बाबूराम तालान, महेंद्र सिंह, अजीत, पंकज कुमार आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran