गोकशी के मामले में पांच अभियुक्त गिरफ्तार

सिद्धार्थनगर : इटवा थानाक्षेत्र के मिश्रौलिया शिवदासपुर व डुमरियागंज के माली मैनहा में गोकशी की घटना को अंजाम देने वाले पांच अभियुक्तों को क्राइम ब्रांच, एसओजी तथा इटवा व डुमरियागंज थाने की संयुक्त टीम ने गुरुवार की सुबह हल्लौर स्थित नहर के पास से गिरफ्तार कर लिया। अभियुक्तों ने गोकशी करने तथा इसके मांस को यथा स्थान पहुंचाने की बात स्वीकार की। इनके पास से वध करने वाली सामग्री के साथ एक बिना नंबर की बाइक भी बरामद हुई है।

स्वतंत्रता दिवस के एक दिन पहले ग्राम पंचायत मिश्रौलिया के खेत व बाग में गोवंश का सिर तथा अन्य अवशेष बरामद हुए, जिसके बाद से क्षेत्र में तनाव की स्थिति उत्पन्न हो गई। भाजपा कार्यकर्ताओं ने 24 घंटे में दोषियों के गिरफ्तारी की मांग उठाई थी। वहीं 16 अगस्त को माली मैनहा के औसानपुर कुएं से भी गोवंश के अवशेष बरामद हुए। वह अवशेष नगर पंचायत निवासी भोला सोनी के गाय के थे जो दो दिन पहले अचानक गायब हो गई थी। दोनों मामलों में दोषियों की गिरफ्तारी का दबाव पुलिस पर था जिसके कारण पर्दाफाश के लिए चार टीमें अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए लगाई गई। कोतवाल डुमरियागंज संजय मिश्रा तथा एसओजी प्रभारी जीवन त्रिपाठी के नेतृत्व में पांच की गिरफ्तारी हुई है जबकि इस घटना में शामिल दो अन्य फरार हैं।

गुरुवार को डुमरियागंज थाना परिसर में सीओ डुमरियागंज अजय कुमार श्रीवास्तव, सीओ इटवा रमेश चंद्र पांडेय ने राजफाश करते हुए बताया कि नौशाद पुत्र इबरार निवासी धनखरपुर, थाना भवानीगंज, जुबेर पुत्र मो. अनीस, सलीम पुत्र वसीम, रफीउल्लाह पुत्र कल्लू व हैदर अली पुत्र अतीउल्लाह निवासी जबजौआ थाना डुमरियागंज को गिरफ्तार किया गया है। इनके पास से तीन चाकू, एक बोगदा, एक लकड़ी का ठेहा, एक तराजू बाट, दो प्लास्टिक का बोरा, दो पैकेट पालीथिन , बिना नंबर प्लेट की बाइक व एक वर्ष का एक गोवंशीय पशु बरामद किया गया है।

टीम में उपनिरीक्षक सत्येंद्र कुमार, गणेश दत्त मिश्रा, रामसिंह, प्रमोद ओझा, विकास सिंह, सुशील यादव, अरूण कुमार, दिनेश कुमार, वंदना यादव शामिल रहे।

Edited By: Jagran