ग्रामसभा में हंगामा व मारपीट में नौ नामजद

---

संवाद सूत्र, अमड़ापाड़ा (पाकुड़) : पचुवाड़ा नार्थ कोल ब्लाक के विस्थापित चिलगो गांव के ग्रामीणों के लिए आरएंडआर पालिसी के तहत बनने वाली कालोनी की बाबत ग्रामसभा में हुए विवाद में गुरुवार को दो प्राथमिकी हुई। दोनों प्राथमिकी ग्रामीणों के विरुद्ध हुई है। पहली प्राथमिकी तालझारी गांव के किस्टु टुडू व दूसरी प्राथमिकी बीजीआर के पेट्रोलिंग इंचार्ज मृण्मय मित्रा ने कराई है। इनमें अमीन मरांडी, बाबूलाल मरांडी, मणि टुडू, मंत्री टुडू, शिवलाल मुर्मू, लाल टुडू, साइमन टुडू सहित विशनपुर गांव के सोम हेम्ब्रम एवं वकील टुडू समेत 15-20 अज्ञात को आरोपित बनाया गया है।

बुधवार को आयोजित ग्रामसभा में अंचल अधिकारी, अंचल निरीक्षक, राजस्व उपनिरीक्षक, अंचल अमीन, प्रधान लिपिक सहित विभिन्न गांवों के ग्रामीण मौजूद थे। इमली पेड़ के नीचे ग्रामसभा चल रही थी। ग्रामसभा में विस्थापितों के लिए कालोनी निर्माण पर वार्ता होनी थी। स्थल का भी चयन होना था। ग्रामसभा जैसे ही दोपहर करीब डेढ़ बजे शुरू हुई गांव के अमीन, बाबूलाल, मणि, मंत्री, शिवलाल, लाल टुडू, साइमन टुडू, विशनपुर गांव के सोम हेम्ब्रम, वकील टुडू आदि ने पारंपरिक हथियार के साथ हंगामा शुरू कर दिया। सभी अधिकारियों को भगा दिया। आरोपित अमीन मरांडी ने तालझारी गांव के किस्टु टुडू को राड से मारकर जख्मी कर दिया। बीजीआर पेट्रोलिंग इंचार्ज मृण्मय मित्रा ने बताया कि ग्रामसभा की कार्रवाई में बीजीआर कोल कंपनी के वाहन को क्षतिग्रस्त कर दिया गया। पदाधिकारी के साथ मारपीट की गई। करीब 40 कुर्सियों को तोड़ दिया गया। पुलिस निरीक्षक गोपाल कृष्ण यादव ने बताया कि दो प्राथमिकी दर्ज हुई है। मामले की जांच चल रही है।

Edited By: Jagran