संवाद सहयोगी, मंडी आदमपुर : खरीफ 2020 का मंजूरशुदा व खरीफ 2021 की बर्बाद हुई फसलों का मुआवजा खेड़ी चौपटा तहसील की तर्ज पर 65 सौ रुपये प्रति एकड़ किसानों के खाते में डालने व खरीफ 2022 की जलभराव से बर्बाद हुई फसलों की स्पेशल गिरदावरी की मांग को लेकर तहसील परिसर में किसानों का धरना 67वें दिन भी जारी रहा। बुधवार को धरने की अध्यक्षता छोटूराम फगेडिया व बलवंत सिवाच ने संयुक्त रूप से किया व संचालन सतबीर सिंह धायल ने किया। इस दौरान सतबीर सिंह धायल ने बताया कि 67 दिनों से चल रहे धरने के बाद भी सरकार का कोई प्रतिनिधि धरने पर नहीं पहुंचा जिसके कारण किसानों में भारी गुस्सा है जिसके चलते किसानों ने रोष स्वरूप उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला का पुतला फूंका और बताया कि गुरुवार को मुख्यमंत्री मनोहर लाल का पुतला दहन किया जायेगा। इस मौके पर हीरालाल, अनिल बैंदा, महेंद्र स्वामी, वेदप्रकाश, जगदीश, बुधराम, राजेंद्र, महेंद्र, हनुमान, बलबीर उपस्थित रहे।

Edited By: Jagran