जागरण संवाददाता, नवांशहर : ए प्लस मिनी फारेस्ट चंडीगढ़ रोड नवांशहर के पास रक्षा बंधन के पावन पर्व के उपलक्ष्य पर वृक्षाबंधन कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसमें हरियाली उत्सव टीम एवं एसकेटी प्लांटेशन के सदस्यों ने पूर्व में लगाए गए वृक्षों (कनेर, एलेस्टोनिया, जामुन, अर्जुन, बेलपत्र, नीम आदि को रक्षासूत्र बांधकर प्रकृति के संरक्षण का संकल्प लिया। आर्ट आफ लिविग के शिक्षक मनोज कंडा ने कहा कि वृक्षबंधन के आयोजन का मुख्य उद्देश्य यह है कि लोग प्रकृति से जुड़े रहें और हम इस दिन पेड़ों से रक्षासूत्र बांधकर उनके प्रति आभार व्यक्त करते हैं। आज चारों तरफ वायु प्रदूषण है, पेड़ों की अंधाधुंध कटाई, जल स्तर का लगातार गिरना हमारे भविष्य को संकट की ओर ले जा रहा है इसलिए हमें आज से ही सुधार करना होगा। क्योंकि अगर हम वर्तमान में सुधार करेंगे तो भविष्य अपने आप सुरक्षित हो जाएगा। इस अवसर पर एसकेटी प्लांटेशन टीम के अंकुश निझावन, आर्ट आफ लिविग के मनोज जगपाल, रोटरी क्लब से राजन अरोड़ा और रिया अरोड़ा, हरियाली उत्सव से विजय कुमार और राजकुमार आदि सदस्य उपस्थित थे। इस मौके पर राजन अरोड़ा ने कहा की रक्षाबंधन केवल भाई-बहन का पर्व नहीं है। बल्कि यह तो किसी की भी रक्षा करने का संकल्प लेने का पर्व है। तो क्यों न हम प्रकृति की रक्षा का संकल्प लें। पेड़ों को राखी बांधकर वृक्षाबंधन मनाएं। उनकी सुरक्षा की शपथ लें।

Edited By: Jagran