जागरण संवाददाता, चंडीगढ़। चंडीगढ़ बर्ड पार्क शहर का सबसे अच्छा टूरिस्ट प्लेस बन चुका है। यहां आने वाले पर्यटक तो खुश होते ही हैं वह अपने साथ पक्षियों के साथ बिताए पलों की यादें भी ले जाते हैं। सिर्फ पयर्टक ही नहीं बर्ड पार्क में परिंदे भी खूब हर्षित हैं। इसी का परिणाम है कि बर्ड पार्क में मेहमान परिंदों का कुनबा लगातार बढ़ रहा है।

बरसात के सीजन में पक्षियों का परिवार बढ़ रहा है। यहां उन्हें अनुकूल माहौल मिल रहा है जिससे ब्रीडिंग भी खूब हो रही है। चंडीगढ़ बर्ड पार्क में पक्षियों की संख्या लगातार बढ़ रही है। पिछले सप्ताह एडवाइजर धर्मपाल ने बर्ड पार्क की सोवेनियर शाप का उद्घाटन करने के बाद वूड डक के नवजात बच्चे छोड़े थे।

अब होम कम फारेस्ट एंड वाइल्ड लाइफ सेक्रेटरी नितिन कुमार यादव ने 11 नवजन्में पक्षियों को बर्ड पार्क में छोड़ा। इन नवजन्में चूजों को एवियेरी में छोड़ते हुए नितिन यादव ने खुशी जाहिर की। बर्ड पार्क में एग्जोटिक बर्ड लगातार अपना परिवार बढ़ा रहे हैं। यह सिद्ध करता है कि बर्ड में उन्हें अनुकूल माहौल मिल रहा है।

इस मौके पर चीफ कंजर्वेटर आफ फारेस्ट देबेंद्र दलाई ने कहा कि बुडगेरीगर्स आस्ट्रेलियन महाद्वीप के पक्षी हैं। यह भारतीय जलवायु में भी अच्छे से रह रहे हैं। चंडीगढ़ बर्ड पार्क में टीम ब्रीडिंग के लिए अच्छे प्रयास कर रही है। 12 अगस्त को एडवाइजर धर्मपाल ने चार वूड डक को बर्ड पार्क में छोड़ा था। चंडीगढ़ बर्ड पार्क नवंबर 2021 में पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द की पत्नी सविता कोविन्द ने उद्घाटन किया था। इसके बाद से ही यहां पयर्टकों की संख्या लगातार बढ़ी है।

बता दें कि बर्ड पार्क सप्ताह में पांच दिन पर्यटकों के लिए ओपन रहता है। सोमवार और मंगलवार को बंद रखा जाता है। इन दिनों में मेंटेनेंस और दूसरे कार्य होते हैं। बर्ड पार्क में पांच साल तक के बच्चों की एंट्री निशुल्क रखी गई है। पांच से 12 साल तक 30 रुपये और इससे ऊपर 50 रुपये टिकट लगती है। ऑनलाइन यूपीआइ मोड से भी टिकट ले सकते हैं।

Edited By: Ankesh Thakur