पटना [जेएनएन]। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति द्वारा आयोजित वार्षिक माध्यमिक परीक्षा 2016 में गलत तरीके से परीक्षा दिलाने के आरोप में दो उच्च माध्यमिक स्कूलों की मान्यता निलंबित कर दी गई है। साथ ही इससे संबंधित 2157 परीक्षार्थियों के रिजल्ट भी रद कर दिए गए हैं।  

बिहार बोर्ड के अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि वार्षिक माध्यमिक परीक्षा 2016 में डॉ. मुनी लाल यादव प्लस टू इंटर विद्यालय नगला, किंजर, अरवल ने 100 परीक्षार्थियों को गलत तरीके से परीक्षा में शामिल कराया था।

यह भी पढ़ें: प्रशासन ने दिया तुगलकी फरमान, इस गांव का बिजली-पानी करो बंद

आइडियल हायर सेकेंड्री पब्लिक स्कूल डेल्हा, गया में भी गलत ढंग से 2057 परीक्षार्थी सम्मिलित हुए थे। जिनका परीक्षाफल रोक दिया गया था। सोमवार को शासी निकाय की बैठक में रद करने का फैसला लिया गया। इसके साथ ही संबंधित दोनों स्कूलों से मान्यता रद नहीं करने का कारण पूछा गया था। संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर दोनों की मान्यता रद कर दी जाएगी।

यह भी पढ़ें: यूपी की योगी सरकार को बिहार आरजेडी ने भी दिया समर्थन, जानिए क्यों

Posted By: Ravi Ranjan