जागरण संवाददाता, नई दिल्ली। सोमवार को केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की 12वीं की गणित की परीक्षा आयोजित की गई। पिछले साल आए कठिन पेपर को देखते हुए इस साल तैयारी के साथ आए छात्रों के हिसाब से प्रश्न पत्र औसत था। शैक्षणिक सत्र 2015-16 में आयोजित बोर्ड परीक्षा में 12वीं के छात्रों को गणित के कठिन प्रश्न पत्र के कारण परेशानियों का सामना करना पड़ा था। इस बात को ध्यान में रखते हुए सीबीएसई ने इस बार प्रश्न पत्र के पैटर्न में बदलाव किया था।
इस बदले पैटर्न को लेकर दयानंद मार्डन स्कूल के छात्र ऋषभ ने बताया कि इस बार दो अंक वाले सवाल जोड़े गए थे, जबकि 26 सवालों की जगह इस बार कुल 29 सवाल पूछे गए थे। 11 सवाल चार-चार अंक वाले भी थे, जो पिछली बार की अपेक्षा आसान थे।
वहीं, छात्रा श्वेता ने बताया कि पेपर औसत था, लेकिन विस्तृत होने के कारण दो सवाल छूट गए। एवरग्रीन स्कूल की छात्रा नेहा वत्स ने बताया कि प्रश्न पत्र पिछले साल की तुलना में औसत था। सारे प्रश्न किए हैं। अच्छे नंबर आने की उम्मीद है।
- गणित का प्रश्न पत्र औसत था। इसमें से 50 फीसद प्रश्न एनसीईआरटी से पूछे गए थे। छात्र प्रश्न पत्र के पहले और दूसरे सेट के मुकाबले तीसरे सेट को आसानी से कर पाए। पिछले साल गणित का प्रश्न पत्र काफी कठिन आया था, जिससे छात्रछात्राओं को काफी परेशानी हुई थी।
प्रियंका गुलाटी, प्रधानाचार्य, एवरग्रीन स्कूल 

Posted By: Babita Kashyap