इटावा, जागरण संवाददाता। खाकी वर्दी का रौब दिखाकर ठगी और चेकिंग के नाम पर वाहनों से वसूली करते हुए पुलिस ने फर्जी दारोगा को गिरफ्तार किया। वह अबतक सराफा कारोबारियों और वाहन सवारों से अवैध वसूली कर चुका है। उसके खिलाफ हत्या के प्रयास का भी एक मुकदमा दर्ज है।

एसएसपी जय प्रकाश सिंह ने बताया कि इटावा सदर कोतवाली पुलिस टीम द्वारा गाड़ीपुरा चौराहा पर वाहन चेकिंग की जा रही थी तभी मुखबिर से वर्दी पहनकर लोगों से अवैध वसूली करने वाले के बारे में सूचना मिली।  वह रामलीला रोड की तरफ से गाड़ीपुरा चौराहा की ओर जा रहा है।

इसपर पुलिस टीम ने चेकिंग के दौरान एक बाइक सवार को रोकने का प्रयास किया गया। बाइक सवार ने पुलिस को देखकर भागने का प्रयास किया तो घेराबंदी करके उसे पकड़ लिया गया।

पूछताछ में उसने अपना नाम विपिन यादव निवासी ग्राम मिलकिया थाना चौबिया बताया। उसके पास से खाकी वर्दी, बैज व मोनोग्राम, बिल्ला, बेल्ट, लाल जूते, खाकी मोजे, एक खाली पुलिस पहचान पत्र, सोने की दो चेन, एक तमंचा व दो कारतूस, एक बाइक बरामद की गई।

उसने बताया कि वह फर्जी दारोगा बनकर ज्वैलर्स के पास जाता था और अपनी आर्टीफीशियल चेन को असली सोने की चेन से बदल लेता था। वर्दी का रौब दिखाकर वाहन चेकिंग कर अवैध वसूली करता था। 

एसएसपी ने बताया कि आरोपित विपिन के विरुद्ध हत्या के प्रयास का मुकदमा थाना चौबिया में दर्ज है। यह मामला वर्ष 2015 का है। सदर कोतवाली में उसके विरुद्ध धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया गया था और तब से पुलिस उसकी तलाश कर रही थी। 

Edited By: Abhishek Agnihotri