धर्मबीर सिंह मल्हार, तरनतारन : पर्यावरण संरक्षण के लिए कार्य करने वाले गुरमीत सिंह झब्बाल ने इंटरनेट मीडिया पर लाइव हो कर एक व्यक्ति से 500 रुपये में चिट्टे की पुड़िया खरीदने का दावा करते हुए पुलिस राज्य सरकार को कटघरे में खड़ा किया है। वायरल हो रही वीडियो में वह कह रहे हैं कि आम आदमी पार्टी की सरकार राज्य को नशा मुक्त बनाने के लिए भले ही शिकंजा कसने के दावे कर रही है, परंतु तरनतारन के कस्बा झब्बाल में चिट्टे का कारोबार लगातार फल-फुल रहा है।

पर्यावरण प्रेमी गुरमीत सिंह झब्बाल ने इंटरनेट मीडिया पर लाइव होकर बताया कि एक घर से उन्होंने 500 रुपये में चिट्टे की पुडि़या खरीदी है और ऐसी दर्जनों पुडि़या एक दिन में बिक रही है। उन्होंने कहा कि कस्बा झब्बाल स्थित गुरुद्वारा बीड़ बाबा बुड्ढा साहिब मोड़ पर उनका घर है। उनके घर के पास ही एक चर्चित कालोनी है और इसी कालोनी में एक व्यक्ति चिट्टे (हेरोइन) की पुडि़या बेचता है।

गुरमीत सिंह झब्बाल ने बताया कि मंगलवार को सुबह करीब सवा दस बजे उक्त घर से एक युवक पुडि़या लाकर अपने प्राइवेट पार्ट में नशे का टीका लगवा रहा था। गुरमीत सिंह ने कहा कि जब उन्होंने युवक को टीका लगवाते हुए देख लिया तो उसने अपनी हालत का वास्ता देते बताया कि वह तीन वर्ष से लगातार चिट्टे के टीके लगा रहा है। अगर टीका नहीं लगाता तो सांस लेना मुश्किल हो जाता है। गुरमीत सिंह झब्बाल ने उक्त युवक द्वारा लगाए नशे के टीके वाली सीरिज को दिखाते हुए इंटरनेट मीडिया पर लाइव हो कर आरोप लगाया कि मैं तीन वर्ष से दुहाई दे रहा हूं कि इस कालोनी में रहने वला एक युवक नशा बेचता है। जिसके सुबूत 2018 से लेकर लगातार पुलिस से कार्रवाई की मांग कर चुके हैं, परंतु अभी तक पर्चा दर्ज नहीं हुआ।

गुरमीत सिंह ने दूसरी बार लाइव हो कर पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए कहा कि मैंने खुद उक्त घर से 500 रुपये में हेरोइन का नग (पुडि़या) खरीदी है।

पुलिस अधिकारी नहीं करते कोई कार्रवाई

गुरमीत सिंह ने आरोप लगाया कि वह सुबूतों के साथ जब भी किसी पुलिस अधिकारी को शिकायत करते हैं तो पहले शिकायत को अच्छे ढंग से सुना जाता है पर बाद में कोई कार्रवाई नहीं होती। बार-बार फोन लगाने पर उक्त अधिकारी नशा बेचने वाले खिलाफ कार्रवाई करने के बजाय उसका (गुरमीत सिंह झब्बाल) फोन रिसीव नहीं करते। यहां तक कि कई अधिकारी उसका मोबाइल फोन का नंबर ब्लैक लिस्ट में डाल देते हैं।

सूचना मिलते ही की जाती है ठोस कार्रवाई

थाना झब्बाल के प्रभारी इंस्पेक्टर प्रभजीत सिंह गिल ने कहा कि इंटरनेट मीडिया पर लाइव होते गुरमीत सिंह झब्बाल को मैंने देखा है। मामले की जांच चल रही है। इलाके में कौन नशा बेचता है। इस बाबत सूचना मिलते ही पुलिस ठोस कार्रवाई करती है। जिस कालोनी में नशा बेचने की जो शिकायत मिली है, उसकी जांच की जा रही है। जांच के बाद कार्रवाई होगी।

Edited By: Jagran