नई दिल्ली, जेएनएन। मोबाइल कंपनियां आजकल कैमरे केे ऊपर फोकस कर रही हैं। वहीं, मोबाइल का इस्तेमाल करने वाले युवाओं ने भी कैमरे के फोकस को समझना शुरू कर दिया है। जो युवा फोटोग्राफी में करियर बनाना चाहते हैं, उनके लिए इस फील्ड में काफी स्कोप है। फोटोग्राफी को लेकर लोगों को लगता है कि सरकारी नौकरी नहीं मिलती है, लेकिन ऐसा कुछ नहीं है। अगर आप फोटोग्राफी में अपना करियर बनाना चाहते हैं, तो सरकारी और गैर-सरकारी दोनों ही जगह काम करने का मौका मिलता है।

इस बार हमने सरकारी नौकरी की ख्वाहिश रखने वाले युवाओं को ध्यान में रखते हुए फोटोग्राफी में करियर के संबंध में बात की। हमने इस मामले को समझने के लिए एमसीयू भोपाल में जनसंचार विभाग के विभागाध्यक्ष और फोटोग्राफी विशेषज्ञ प्रोफेसर संजीव गुप्ता से बात की। उन्होंने बताया कि फोटोग्राफी में करियर बनाने की अपार संभावना है। 

सेना से लेकर मंत्रालय तक मिल सकता है मौका
प्रो. संजीव ने बताया कि सरकारी क्षेत्रों में फोटोग्राफर के पास नौकरी का मौका है। डिफेंस विभाग में युवाओं को काम करने का मौका मिल सकता है। सेना के पास अपने फोटोग्राफर होते हैं। इसके अलावा जनसंपर्क विभाग को भी फोटोग्राफर की जरूरत होती है। हर राज्य का अपना जनसंपर्क विभाग होता है। मंत्रालयों को भी अपने काम के प्रचार-प्रसार के लिए फोटोग्राफर्स की आवश्यकता होती है। इसके इतर फॉरेंसिक साइंस डिपॉर्टमेंट में फोटोग्राफी को लेकर काफी स्कोप है। वहीं, आजकल सरकारी विश्वविद्यालय में भी फोटोग्राफी को लेकर डिप्लोमा कोर्सेस भी कराए जा रहे हैं। ऐसे में युवाओं के पास एकेडमिक में भी जाने का मौका है।

ऐसे करें पढ़ाई़
फोटोग्राफी एक प्रोफेशनल कोर्स है। देश मेें कई प्रतिष्ठित संस्थान हैं, जहां फोटोग्राफी का अध्ययन कराया जाता है। जामिया मिलिया इस्लामिया, माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता और जनसंचार विश्वविद्यालय और नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ फोटोग्राफी जैसे कई सरकारी संस्थान हैं, जहां ऐसे कोर्स कराए जाते हैं। मध्य प्रदेश के सागर विश्वविद्यालय में फॉरेंसिक साइंस फोटोग्राफी को लेकर विशेष कोर्स की व्यवस्था है। 

Posted By: Rajat Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप