नई दिल्ली, प्रेट्र। जवाहर नवोदय विद्यालयों में छात्रों की आत्महत्या की घटनाओं के बाद देशभर के इन आवासीय विद्यालयों में 1,100 से अधिक काउंसलरों की नियुक्ति की गई है। अधिकारियों ने शुक्रवार को बताया कि नवोदय विद्यालय समिति (एनवीएस) ने देशभर में जवाहर नवोदय विद्यालयों (जेएनवी) के लिए 1,176 काउंसलर की भर्ती की।

जेएनवी में वर्ष 2013 से 2017 के दौरान कुल 49 छात्रों ने आत्महत्या कर ली थी। एचआरडी मंत्रालय ने इस साल की शुरुआत में छात्रों द्वारा आत्महत्या की घटनाओं की जांच करने के लिए एक समिति का गठन किया था।

'कुल 1,176 काउंसलरों को नौकरी पर रखा गया 

समिति की सिफारिशों के आधार पर इन स्कूलों के कामकाज की निगरानी करने वाली एनवीएस ने काउंसलर के लिए अनुबंध पर नियुक्तियों का विज्ञापन दिया था। एनवीएस के एक अधिकारी ने बताया, 'कुल 1,176 काउंसलरों को नौकरी पर रखा गया है। 250 से अधिक छात्रों वाले स्कूलों में दो काउंसलर होंगे जबकि अन्य में एक काउंसलर होगा।' उन्होंने बताया कि फिलहाल काउंसलरों की दस महीने के अनुबंध पर भर्ती की गई है जिसे बाद में पांच वषरें तक बढ़ाया जा सकता है।

मंत्रालय ने इस वर्ष जनवरी में पूर्णकालिक काउंसलरों की नियुक्ति के लिए 56 करोड़ रुपये का बजट मंजूर किया था। बता दें कि जेएनवी पूरी तरह आवासीय विद्यालय हैं जहां कक्षा 6 से लेकर 12वीं तक की पढ़ाई होती है। देशभर में 600 से ज्यादा जवाहर नवोदय विद्यालय हैं।

 दिल्ली-एनसीआर की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

Posted By: Mangal Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप