नई दिल्ली ऑनलाइन डेस्क। Medical College Exams 2020: कोविड-19 महामारी के बीच एक तरफ जहां देश भर में विश्वविद्यालयों, महाविद्यालयों और अन्य उच्च शिक्षा संस्थानों में मिड-सेमेस्टर या ईयर के छात्रों को बिना परीक्षा दिये प्रोन्नत किया जा रहा है, वहीं मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया (एमसीआई) ने देश भर के मेडिकल कॉलेजों में स्नातक पाठ्यक्रम, एमबीबीएस के विभिन्न वर्षों के छात्रों को अनिवार्य रूप से परीक्षाएं देने से सम्बन्धित निर्देश जारी किये हैं। एमसीआई द्वारा अपने ऑफिशियल वेबसाइट, mciindia.org, पर कल 4 अगस्त 2020 को जारी एडवाइजरी के मुताबिक एमबीबीएस के किसी भी बैच को अगले लेवल में बिना परीक्षा दिये प्रमोट नहीं किया जाएगा। वहीं, फाइनल ईयर के ऐसे सभी छात्रों जिनके सप्लीमेंट्री एग्जाम वर्ष 2020 के पहले छह माह के दौरान आयोजित किये जाने थे, उनकी परीक्षाएं जल्द से जल्द आयोजित की जाएंगी।

मेडिकल काउंसिल ने अपने एडवाइजरी के कहा कि फर्स्ट एमबीबीएस कोर्स को कॉलेज खुलने के बाद दो माह भीतर पूरा करना होगा और उसके बाद फर्स्ट एमबीबीएस यूनिवर्सिटी एग्जाम आयोजित करने का प्रयास करना चाहिए। काउंसिल ने अपने एडवाइजरी में स्पष्ट किया कि फाइनल ईयर पोस्ट ग्रेजुएट परीक्षाओं के आयोजन में एग्जामिनर के सम्बन्ध में और एग्जाम पैटर्न में दी गयी छूट एमबीबीएस यूनिवर्सिटी एग्जाम के लिए भी जारी रहेगी। वहीं, एमबीबीएस यूनिवर्सिटी एग्जाम के लिए एक्टर्नल एग्जामिनर्स की स्थिति में संस्थान के राज्य से ही एग्जामिनर्स का चयन किया जा सकता है। यदि यह संभव न हो तो एक्टर्नल एग्जामिनर्स की कुल निर्धारित संख्या में से कम से कम आधे किसी दूसरे विश्वविद्यालय से चयनित किये जा सकते हैं। साथ ही, जो भी एग्जामिनर्स फिजिकली प्रजेंट न हो पाने की स्थिति में वीडिया कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सम्मिलित हो पाएंगे।

एमसीआई द्वारा जारी एडवाइजरी यहां देखें

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस