नई दिल्ली, अनुराग मिश्र। लॉकडाउन की वजह से इकोनॉमी पर बुरा असर हुआ है। कोई शक नहीं कि जॉब मार्केट भी इससे प्रभावित हुआ है। हालांकि, इन सबके बीच भी नौकरियों और इंटर्नशिप के कई अवसर हैं, जिन्हें समझकर आप अपना करियर बना सकते हैं। आईआईटी पटना के प्रोफेसर और प्लेसमेंट ऑफिसर कृपाशंकर कहते हैं कि मौजूदा समय में कुछ सेक्टरों पर काफी बुरा प्रभाव पड़ा है, तो कुछ पर कम और कुछ पर काफी कम असर हुआ है, जैसे टूरिज्म, हॉस्पिटैलिटी सेक्टर बुरी तरह प्रभावित हुए हैं, जिनको ट्रेक पर आने में एक साल लगेगा।

वहीं, टेक कंपनियां, टेक स्टॉर्टअप, फॉर्मास्यूटिकल कंपनियां, एफएमसीजी, हेल्थ, एग्रीकल्चर, ई-कॉमर्स कंपनियां आंशिक तौर पर प्रभावित हुई हैं। ये कंपनियां लॉकडाउन पीरियड खत्म होने के बाद जल्द ट्रेक पर आ जाएंगी। मैन्युफैक्चरिंग यूनिट को सुधरने में छह माह का वक्त लग सकता है। हालांकि, इस दौर में नौकरी की संभावनाएं कम जरूर हुई हैं, पर यदि आप काबिल हैं और आपमें दमखम है तो संभावनाएं पूरी तरह समाप्त नहीं हुई हैं। प्लेसमेंट और इंटर्नशिप के मुख्यत: तीन घटक होते हैं- छात्र, संस्थान और इंडस्ट्री।

छात्र क्या करें

संस्थान और कंपनियां नियुक्ति का परंपरागत मॉडल फॉलो नहीं कर रही हैं। ऐसे में छात्रों को अलग सोच रखने की आवश्यकता है। आईआईटी पटना के प्रोफेसर कृपाशंकर कहते हैं कि जब प्लेसमेंट सीजन शुरू होगा तो प्रतिस्पर्द्धा काफी ज्यादा होगी। कंपनियां फ्रेशर्स को नौकरी देने में संकोच करेंगी। उन्होंने कहा कि छात्रों को इस चुनौतीपूर्ण समय को अवसर में तब्दील करने के लिए ऐसा करने की जरूरत है।

- अपने सीवी को अपडेट करें और रीस्किलिंग करें

-अपनी ऑनलाइन उपस्थिति मजबूत करें

-डिजिटल स्किल सीखें और वर्चुअल इंटरव्यू की प्रैक्टिस करें

-सर्टिफिकेट कोर्स करें जिससे आप अधिक संख्या में सर्टिफिकेट हासिल कर सकें

- रिमोट इंटर्नशिप करने के लिए रिसर्च पेपर लिखें

-लर्निंग वेबनायर में शामिल हो, जिससे आपको हर बार कुछ नया सीखने को मिलेगा

-अपनी एंटरप्रेन्योर स्किल को बेहतर करें। मौजूदा समय में एंटरप्रेन्योरशिप के कई विकल्प खुले हैं, उन पर काम करने की आवश्यकता है

संस्थानों के सामने चुनौती

भारत में मैनेजमेंट और इंजीनियरिंग क्षेत्रों में स्नातक करने के बाद युवाओं के पास कैंपस प्लेसमेंट सबसे बड़ा सहारा होता है। प्रोफेसर कृपाशंकर कहते हैं कि कोविड-19 के बाद सारी ट्रेनिंग ऑनलाइन होगी। संस्थानों को लॉकडाउन पूरी तरह से खत्म होने का इंतजार नहीं करना चाहिए। ऐसे में छात्रों को वर्चुअल और ऑनलाइन इंटरव्यू के लिए तैयार करना चाहिए। संस्थानों को अपनी ऑनलाइन सुविधा को बेहतर करना चाहिए। उन्हें प्लेसमेंट प्रक्रिया, वर्चुअल हायरिंग आदि का डिजिटल इंफ्रास्ट्रक्चर बेहतर करना चाहिए।

इंडस्ट्री

कंपनियां परंपरागत मॉडल की बजाए ऑनलाइन प्रक्रिया को अपना सकते हैं। नियोक्ता प्लेसमेंट टॉक, ऑनलाइन टेस्ट, प्रोग्रामिंग टेस्ट और इंटरव्यू को ऑनलाइन कर सकते हैं।

क्या कहता है सर्वे

नौकरी डॉट कॉम के सर्वे के अनुसार 50 प्रतिशत से अधिक कर्मचारी करियर डेवलपमेंट के लिए अपनी डोमेन नॉलेज को बेहतर करने में लगे हैं। सर्वे के अनुसार, 51.25 प्रतिशत लोग अपनी डोमेन नॉलेज को बेहतर करने में लगे हैं। 28.87 प्रतिशत लोगों ने अपस्किलिंग कोर्स में आवेदन किया है। वहीं 9.09 प्रतिशत लोग प्रोफेशलनल की मदद से अपना रिज्यूमे बनवा रहे हैं तो 9.54 प्रतिशत लोग वेबनायर के माध्यम से एक्सपर्ट काउंसलिंग ले रहे हैं।

इन इंडस्ट्री पर पड़ा अधिक प्रभाव

-एय़रलाइंस, ई-क़ॉमर्स, हॉस्पिटेलिटी, बीपीओ/आईटीईएस

इन इंडस्ट्री पर पड़ा कम प्रभाव

-फॉर्मा, बीएफएसआई, हेल्थकेयर

फंक्शनल क्षेत्रों पर पड़ा सबसे अधिक असर

-सेल्स/ बिजनेस डेवलपमेंट, एचआर/एडमिन, मार्केटिंग

इन क्षेत्रों पर पड़ा कम असर

-अकाउंट्स और फाइनेंस, डाटा एनालिटिक्स, आईटी

यहां मिल रही है इंटर्नशिप

1. डुंजो https://www.dunzo.com/" rel="nofollow (वर्क फ्रॉम इंटर्नशिप)

2. अर्बन क्वलेप (आपरेशंस) https://www.urbancompany.com/delhi-ncr" rel="nofollow (वर्क फ्रॉम इंटर्नशिप)

3. टॉपर. कॉम (बिजनेस डेवलपमेंट) https://www.toppr.com/" rel="nofollow

4. अनएकेडमी (रिसर्च) https://unacademy.com" rel="nofollow

5. क्राई (ऑनलाइन क्राउड फंडिंग) https://www.cry.org/" rel="nofollow

6. आईआईटी हैदराबाद (वेब डेवलपमेंट) https://www.iith.ac.in/" rel="nofollow

7. फ्रीचार्ज पेमेंट टेक्नोलॉजी प्राइवेट लिमिटेड (बिजनेस डेवलपमेंट) https://www.freecharge.in/" rel="nofollow

8. लाइफनेस्ट (ब्लॉग लेखन)

9. स्टार फिंग प्राइवेट लिमिटेड (वर्क फ्रॉम होम)

10. आप्टि़स्मॉर्ट इको सॉल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड

11. फुल स्टेक डेवलपर

12. टेकसिटी टेक्नोलॉजी प्राइवेट लिमिटेड

(स्रोत : इंटर्नशाला, लिंकडिन, लेट्स इंटर्न) 

Posted By: Vineet Sharan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस