नई दिल्ली, जेएनएन। कोरोना के दौर में लोगों को घर से निकलना आसान नहीं रह गया है।  ऐसे में लोगों के पास ऑनलाइन खरीदारी का विकल्प है। खास बात है कि यह विकल्प लोगों की सभी तरह की जरूरतों को पूरा भी कर रहा है। ऐसे में करियर के लिहाज से ऑनलाइन मार्केटिंग एक्सपर्टस की मांग तेजी से बढ़ रही है। आने वाले दिनों में इसमें और तेजी आने की संभावना जताई जा रही है।

ऐसे में इस क्षेत्र में स्ट्रेटेजी से लेकर साइट से जुड़े तमाम  ऐसे नए करियर उभर कर सामने आए हैं जिन्हें कुछ सालों पहले तक शायद ही किसी ने सुना होगा।

बता दें कि भारत में ऑनलाइन खरीदारी करने वालों की संख्या में पिछले कुछ सालों में बड़ी तेजी आई है। अगर सिर्फ भारतीय ऑनलाइन मार्केटिंग कर रही साइट्स की ही बात करें तो अकेले ये करोड़ों-ंअरबों रुपये का बिजनेस कर रही हैं। आने वाले समय में कंपनियों को बड़ी संख्या में ऐसे लोगों की जरूरत होगी जिन्हें ऑनलाइन कामकाज की पूरी समझ हो।

रोजगार के अवसरः

ऑनलाइन मार्केटिंग की दुनिया बहुत ज्यादा बड़ी है। इसीलिए इसमें रोजगार की भी अपार संभावनाएं बनी हुई हैं। मसलन  एडवाइजर, डेटाबेस एडमिनिस्ट्रेटर, सप्लाई चेन मैनेजर, बिजनेस एनालिस्ट, प्रोजेक्ट मैनेजर, कस्टमर रिलेशनशिप मैनेजर, वेब डेवलपर, एडवाइजर, टीम लीडर वहीं एक अच्छे एंटरप्रिन्योर का भी विकल्प है। ऑनलाइन ट्रेडिंग की वजह से मार्केटिंग, फाइनेंस, लॉजिस्टिक्स, वेयरहाउस, ग्राफिक्स के क्षेत्र में जॉब के नए अवसर पैदा हो रहे हैं।

कोर्सेजः

इस क्षेत्र में सेल्स, इंवेंट्री मैनेजमेंट, कस्टमर सर्विस एवं डिस्ट्रब्यूशन जैसे विषयों की पढ़ाई की जाती है। हालांकि विभिन्न संस्थानों के कोर्स के पाठ्यक्रम अलग-अलग हो सकते हैं। कोर्स में प्रवेश के लिए संस्थानों की अलग-ंउचयअलग प्रक्रिया है। कुछ संस्थान मेरिट के आधार पर, तो कुछ प्रवेश परीक्षा के माध्यम से दाखिला देते हैं।

योग्यता 

ग्रेजुएट कोर्स के लिए इंटरमीडिएट की परीक्षा 50 फीसदी अंकों के साथ उत्तीर्ण होना चाहिए। इस कोर्स की अवधि तीन साल होती है। वहीं पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स में प्रवेश के लिए छात्र को एक ग्रेजुएट डिग्री या नियमों के तहत स्थापित किसी विश्वविद्यालय/ संस्थान/कॉलेज से उसके समकक्ष कोर्स उत्तीर्ण किया हो।

संस्थान

वेब ब्रेन्स डिजिटल मार्केटिंग इन्सटीट्यूट

www.webbrains.com

सिम्बायोसिस इंस्टिट्यूट ऑफ बिनेस मैनेजमेंट

wwwwwww.sibm.edu.in

देवीप्रसाद गोयनका मैनेजमेंट कॉलेज

www.dgmcms.org.in

एक्सपर्ट की राय

वैबब्रेन्स डिजिटल मार्केटिंग इन्सटीट्यूट के निदेशक संजीव रावत ((9810117094))ने बताया कि भारत का ऑनलाइन मार्केटिंग का बाजार 2021 में लगभग 76 अरब डॉलर तक पहुंचने का अनुमान है। 2020 में यह बाजार करीब 32 अरब डॉलर की सीमा के पार जा चुका है। वहीं इस क्षेत्र में लगभग 14 लाख रोजगार पैदा होने

का अनुमान है। फिलहाल भारत के इस कारोबार पर  फ्लिपकार्ट, स्नैपडील, मिंत्रा जैसी कंपनियों का वर्चस्व बना हुआ है। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप