CBSE Results 2021: सीबीएसई बोर्ड इस साल दूसरी बार भी 10वीं और 12वीं की मेरिट लिस्ट घोषित नहीं कर रहा है। पिछले साल मार्च, 2020 में आई महामारी के चलते बोर्ड ने परीक्षाएं कैंसिल करके परिणामों की घोषणा की थी। वहीं इस बार भी बोर्ड ने दसवीं और बारहवीं की परीक्षाएं आयोजित ही नहीं की है। इसके चलते इस बार भी टॉपर्स की घोषणा नहीं करेगा। वहीं पिछली बार बोर्ड ने साल 2019 में कक्षा 10वीं और 12वीं के परीक्षा टॉपर्स की घोषणा की थी। इसके तहत कक्षा 10 की परीक्षा में 96 छात्र शीर्ष तीन पदों पर थे। वहीं 12वीं कक्षा में कुल 23 छात्र टॉप तीन पदों पर थे।

वहीं पिछले साल, परीक्षा केवल 15 फरवरी से 20 मार्च के बीच निर्धारित पेपर के लिए आयोजित की गई थी लेकिन 23 मार्च को प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोनावायरस के प्रसार को रोकने के लिए देशव्यापी तालाबंदी की घोषणा की थी और बोर्ड परीक्षाओं को रोकना पड़ा था। वहीं इस साल भी मार्च- अप्रैल में कोविड-19 संक्रमण की दूसरी लहर आने के चलते पहले 10वीं की परीक्षाएं कैंसिल की गई थी। वहींं इस दौरान स्टूडेंट्स और पैरेंट्स ने भी परीक्षाएं रद्द करने की अपील की थी। इसके बीच ही 12वीं की परीक्षाओं को भी कैंसिल कर दिया था।

इसके बाद सीबीएसई बोर्ड ने 10वीं और 12वीं दोनों कक्षाओं के लिए मूल्यांकन मानदंड निर्धारित किए थे। इवैल्यूएशन क्राइटेरिया के हिसाब से 10वीं के स्टूडेंट्स का मूल्यांकन 100 अंकों के आधार पर किया जाएगा। इसके तहत 20 अंक स्टूडेंट्स के इंटर्नल एसेसमेंट के दिए जाएंगे। वहीं बचे हुए 80 अंकों में से स्टूडेंट्स को उनके शिक्षण सत्र में हुई टेस्ट या परीक्षाओं के आधार पर दिए जाएंगे। इसी तरह 12वीं में भी पिछली कक्षाओं में प्रदर्शन के आधार पर अंक दिए जाएंगे।

वहीं सीबीएसई कक्षा 12 बोर्ड परीक्षा 2021 के रिजल्ट इवैल्यूएशन के लिए प्री-बोर्ड, यूनिट टेस्ट या मिड-टर्म शामिल हैं। इसमें 80 अंक होंगे। इसके साथ सीबीएसई ने प्रैक्टिकल परीक्षा के लिए 20 अंक आवंटित किए हैं।