CBSE Compartment Exams 2020: सीबीएसई बोर्ड ने 10वीं और 12वीं की कंपार्टमेंट परीक्षा को लेकर अपना रुख स्पष्ट कर दिया है। बोर्ड का कहना है कि कंपार्टमेंट परीक्षा को रद्द नहीं किया जा सकता है, क्योंकि यह फैसला बहुत संख्या में छात्र-छात्राओं के भविष्य को प्रभावित करेगा। दरअसल बोर्ड को लगातार छात्र-छात्राओं की तरफ से परीक्षा रद्द करने के संबंध में अनुरोध मिल रहे थे। स्टूडेंट्स मांग कर रहे थे कि कोविड-19 संक्रमण के दौरान कंपार्टमेट परीक्षा को रद्द कर देना चाहिए। इस तरह की अनुरोध को मद्देनजर रखते हुए बोर्ड ने अपना रुख स्पष्ट कर दिया है। सीबीएसई का कहना है कि गृह मंत्रालय द्वारा जारी मानक संचालन प्रक्रिया का पालन करके कम्पार्टमेंट परीक्षा आयोजित करेगा।

सीबीएसई ने आगे कहा कि देश भर से प्राप्त आवेदन पत्रों पर विचार किया गया था, लेकिन कंपार्टमेंट परीक्षा रद्द होने की स्थिति में बड़ी संख्या में छात्रों का भविष्य दांव पर है, यही वजह है कि यह कदम उठाना सही नहीं होगा। इसके अलावा छात्र सीबीएसई बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर ताजा सूचनाएं और अपडेट देख सकते हैं। वहीं ऐसे में परीक्षा के आयोजन की तारीखों की जल्द ही उम्मीद की जा रही है। इसलिए स्टूडेंट्स आधिकारिक वेबसाइट पर अपनी नजर बनाएं रखें।

वहीं आधिकारिक नोटिफिकेशन के अनुसार, कक्षा 12वीं के 87,651 छात्रों और कक्षा 10वीं के 1,50,198 छात्रों को वर्ष 2020 के लिए कंपार्टमेंट परीक्षा देनी है। इस बार कंपार्टमेंट परीक्षा देरी से आयोजित हो रही है। आमतौर पर कंपार्टमेंट रिजल्ट जारी होने के बाद जुलाई में करा ली जाती थी लेकिन इस साल मार्च में कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने से पहले केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने पहले 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं स्थगित कर दी थीं। इसके बाद जब दोबारा परीक्षाएं कराने के लिए शेड्यूल जारी किया तो छात्रों और अभिभावकों ने कोरोना के दौर में खतरे को देखते हुए परीक्षाएं रद्द करने की मांग की और मामला कोर्ट तक जा पहुंचा। इसके बाद कोर्ट में सीबीएसई ने बिना परीक्षा कराए आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर रिजल्ट जुलाई के पहले और दूसरे सप्ताह में जारी किया है। 

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021