AISHE Report 2021 Released: ऑल इंडिया सर्वे ऑन हॉयर एजुकेशन (All India Survey on Higher Education, AISHE Report 2020) रिपोर्ट जारी हो गई है। रिपोर्ट के अनुसार उच्च शिक्षा में छात्राओं के नामांकन में बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है। इसी अवधि के दौरान, उच्च शिक्षा के पाठ्यक्रमों में महिला छात्रों के नामांकन में भी 18.2 प्रतिशत रही है। वहीं पिछले पांच वर्षों के दौरान हॉयर एजुकेशन के क्षेत्र में 11.4% की वृद्धि देखी गई है। यह बढ़ोत्तरी छात्र नामांकन के मामले के आधार पर दर्ज की गई है। इसके अलावा देश में उच्च शिक्षा में जीईआर Gross Enrolment Ratio (GER) अनुपात बढ़कर 27.1% हो गया है। हालांकि पिछले वर्ष की संख्या 26.3% की तुलना में बहुत मामूली बढ़त दर्ज की गई है।

इस संबंध में केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने एक ट्वीट भी किया। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘एआईएसएचई रिपोर्ट 2019-20 पर खुशी जाहिर करते हुए ट्विट किया कि, “मुझे उच्च शिक्षा पर अखिल भारतीय सर्वेक्षण 2019-20 रिपोर्ट जारी करने की घोषणा करते हुए खुशी हो रही है। जैसा कि आप देख सकते हैं, हमने जीईआर (GER), जेंडर पैरिटी इंडेक्स में हमनें सुधार किया है। इंस्टीट्यूट ऑफ नेशनल इंपोर्टेंस की संख्या में 80% (2015 में 75 से 2020 में 135 तक) की बढ़ोत्तरी हुई है।

एआईएसएचई रिपोर्ट 2020 के मुताबिक देश में लोकप्रिय सब्जेक्ट है बीए। छात्रों ने इस अवधि के दौरान इंजीनियरिंग की जगह बैचलर ऑफ आर्ट्स का विकल्प को ज्यादा चुना है।

रिपोर्ट 2020 के अनुसार, अधिकतम संख्या में छात्र बीए में नामांकित हैं। वहीं बीए के बाद बीएससी और बीकॉम कार्यक्रम हैं, जिसमें स्टूडेंट्स ने दाखिला लिया है। वहीं 32.7 % छात्रों ने यूजी में Humanities and Social Sciences कोर्स को चुना है, जबकि साइंस में 16 फीसदी, कॉमर्स में 14.9% और इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी में महज 12.6 % स्टूडेंट्स ने नामंकना कराया था।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप