पेड़ों की सुरक्षा के लिए खंभों को तोड़कर छड़ की चोरी

संवाद सूत्र, दलाही(दुमका): दुमका-जामताड़ा मुख्य पथ के आश्रम चापुड़िया गांव के किनारे वन विभाग की ओर से पेड़ों की सुरक्षा के लिए बनाए घेराव को शरारती तत्व रोज तोड़ रहे हैं। अंधेरे में घेराव के खंभे को तोड़ कर भीतर की छड़ निकाल चोरी कर रहे हैं। ग्रामीणों ने बताया कि इस प्रकार घेराव खत्म होने से पेड़ नष्ट हो जाएंगे। सबकुछ जानते हुए विभागीय अधिकारियों ने चोरी रोकने का प्रयास नहीं किया। यही हाल रहा तो वह दिन दूर नहीं कि वन विभाग के घेराव का एक भी खंभा नजर नहीं आएगा। पेड़ भी धीरे-धीरे नष्ट होते जाएंगे। सूत्रों की माने तो मध्य रात्रि से बाहर के लोग आकर इस कार्य को अंजाम दे रहे हैं। वे वाहन के साथ औजार लेकर सीमेंट के खंभे को तोड़ते हैं और फिर छड़ निकालकर गाड़ी में डालकर अंधेरा होने से पहले निकल जाते हैं। ग्रामीणों का कहना है कि तीन माह से सामान चोरी हो रहा है। लगभग पांच सौ से अधिक घेराव के खंभे से छड़ चोरी हो चुकी है। ग्रामीणों ने प्रशासन से वन घेराव की क्षति पहुंचाने वाले असामाजिक तत्वों पर रोक लगाने की मांग की है। वन रक्षी रूपेश कुमार ने बताया कि वन समिति के सदस्यों से चोरी की सूचना मिली है। मसलिया थाना में इसकी शिकायत कर दी गई है। जल्द असामाजिक तत्वों के ऊपर कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Jagran