जागरण संवाददाता, रेवाड़ी:

पिछड़ा वर्ग कल्याण सभा व संयुक्त संघर्ष समिति पिछड़ा वर्ग की ओर से नेताजी सुभाष चंद्र बोस पार्क में एक बैठक आयोजित की गई। आयोजित बैठक की अध्यक्षता नामदेव रोहल्ला समाज के प्रधान सतीश कुमार ने की। रामोतार यादव ने कहा कि जब तक सरकार के पास पूरी आबादी के आंकड़े मौजूद नहीं होंगे तब तक आरक्षण पर विचार संभव नहीं है। उन्होंने कहा कि पिछड़ा वर्ग आयोग को पिछड़े वर्गीय जातियों का अध्ययन शैक्षणिक व आर्थिक आधार पर करके सुनवाई करनी चाहिए। इसलिए यह आवश्यक है कि पूरी जानकारी आयोग को उपलब्ध कराई जाए।

प्रजापति समाज के प्रधान बीर सिंह ने कहा कि जो आरक्षण हमें सरपंच के लिए दिया गया था उससे हम पहले भी संतुष्ट नहीं थे और अब भी नहीं है। इसे आबादी के हिसाब से दिया जाए। इसका समर्थन करते हुए दौलतराम प्रजापति ने कहा कि सरकार पिछड़े वर्ग को कुछ देने के बजाय दिए हुए को ही ले रही है जो पिछड़ों के साथ बहुत बड़ा अन्याय है। कुलदीप यादव ने कही कि पिछड़ा वर्ग पूरे प्रदेश में थोड़ी आबादी बसा है। किसी क्षेत्र में 10 प्रतिशत, कहीं 20 प्रति तो कहीं इससे कम है। यह संगठित नहीं होने के कारण दबे कुचले रह रहे हैं।

आरडी शर्मा जांगिड़ ने कहा कि देश में सबसे ऊपर संविधान है और आयोग को उसी आधार कार्य कर सभी क्षेत्र का शैक्षणिक सामाजिक व आर्थिक स्तर का अध्ययन कर यह कार्य करना चाहिए। सतीश कुमार रोहिल्ला ने कहा कि समाज के लोगों को मिलजुल कर अपने हकों के लिए संगठन की मजबूती पर बल देना चाहिए। इस मौके पर होशियार सिंह, विजयनंद, रमेशचंद, देशराज आर्य, लक्ष्मण सिंह, सुरेंद्र कुमार, जयभगवान, रामकुमार, कृष्ण कुमार डागर जसवंत सिंह, रामकिशोर, गुगन सिंह, सतीश कुमार सोनी, कृष्ण कुमार रोहेल्ला, नरेन्द्र रोहिल्ला आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran